स्थानीय कंपनी में युवाओं रोजगार हेतु बैठक के साथ हल्ला बोल पोल खोल कार्यक्रम में हक़ और अधिकार के लिये जम कर बरसा



गोड्डा जिले के बेरोजगार मोर्चा के संस्थापक सदस्य और हाल ही में रोजगार मांगने पर भाजपा से निलंबित हुए पूर्व युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष संतोष कुमार ने कहा कि  गोड्डा में अदानी पावर प्लांट जिंदल पावर प्लांट और राजमहल परियोजना जैसे बड़े निधि और सरकारी कंपनी है लेकिन फिर भी यहां से युवा और बेरोजगार दिल्ली मुंबई चेन्नई सहित अन्य बड़े शहरों में काम की तलाश में दर्द भटकते हैं इसलिए आज हमें संगठित होकर आवाज बुलंद करने की जरुरत है ताकि हम अपना अधिकार इनसे छीन कर ले सके आज गुड्डा में पूरे हिंदुस्तान से ही नहीं चीन से भी लोग आकर काम कर रहे हैं लेकिन यहां के लोगों को मजदूरी पर भी रखने में उन लोगों को समस्या सिक्योरिटी गार्ड तक को नहीं रखना चाहते यहां के जनप्रतिनिधियों के उदासीन रवैये के कारण अब यहां से युवाओं को मोर्चा खोलना पढ़ रहा है हाल ही में अपने देखा किस प्रकार से आंदोलन को मजबूत होता देख यहां के युवा को संगठित होता देख आगे सांसद ने एक पोस्ट किया अपने facebook में कि वैसे लो जो मोर्चा बनाकर काम कर रहे हैं आंदोलन कर रहे हैं वैसे लोगों को भारतीय जनता पार्टी गोड्डा से अविलंब निलंबित किया जाए उसके अगले ही दे यहां के जिलाध्यक्ष ने एक पत्र जारी किया , जबकि वही इस जगहों से लाभ ले रहे हैं अब सोचने वाली बात यह है कि क्या जिला इकाई चाहती है यहां सभी बेरोजगार रहे अडानी  और इसीएल में सिर्फ बाहरी काम करें । आज भारतीय जनता पार्टी गुड्डा में आंतरिक लोकतंत्र खात्मे की ओर है या कार्यकर्ताओं की बात करने पर पार्टी से निलंबन और केस का सामना करना पड़ता है इसलिए अब आप  सभी को चाहे वह जिस भी धर्म है अंतर्मन में समीक्षा करने की जरूरत है कि कैसे हम मानसिक गुलामी से निकलकर अपने विचारों को खुले तौर पर व्यक्त करें अधिकार लेने के लिए लड़ना पड़ता है और हम लड़ेंगे सभी प्रखंड स्तर पर कार्यक्रम चल रहा है उसके बाद हम लोग जिला स्तर पर मजबूती से अपनी बातों को रखेंगे हमारे इस मोर्चा और बेरोजगार की आवाज बुलंद करने में जो भी जनप्रतिनिधि हमारे साथ आएंगे हम उन का तहे दिल से स्वागत करेंगे और जो नहीं आयेंगे उनका असलियत भी सबके सामने रखने का काम करेंगे , जल्द ही हम लोग जिले के सभी माननीय विधायक से मिलकर स्थानीय में रोजगार दिलाने के लिए हमारी मुहिम को समर्थन करने रोजगार दिलाने में भागीदार बनें के लिए पत्र के माध्यम से मिलेंगे मुझे उम्मीद है सभी का समर्थन सभी को मिलना चाहिए क्योंकि जिस जवानी चलती है उस जमाना चलता है आज जिस प्रकार से घोडा लोकसभा में युवाओं को रोजगार मानने पर यहां के माननीय सांसद को फिदा होती है वह चिंतनीय है कई भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता कई बार  सार्वजनिक रुप से सोशल मीडिया के माध्यम से मदद मांग चुके हैं लेकिन सिर्फ फेसबुक पर आस्वासन और घोषणा के अलावा कुछ नहीं मिलता है । पिछले दिनों  आपने देखा होगा कि abp न्यूज़ के पत्रकार ने किसान आंदोलन के मंच से अपने नौकरी के इस्तीफे की बात की और ने कहा कि मुझे सच बोलने से रोका जा जाता है इसलिये इस्तीफा दे रहा हूँइसलिये  मैं आप सभी से कहना चाहता हूं की जहां आप अपना  मन की बात अपने अधिकार की बात रख सकें वहां संगठित हों  किसी भी मानसिक गुलामी से बाहर निकलें ।

No comments