आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने के उद्देश्य से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ा जायेगा मत्स्य पालन सेः-उपायुक्त



मत्स्य पालन से लोगों को जोड़ने के उद्देश्य से आज दिनांक-08.02.2021 को उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी  मंजुनाथ भजंत्री द्वारा जलाशयों में फिंगरलिंग संचयन के तहत पुनासी डैम में मछली का बीज छोड़ा गया। इस दौरान उपायुक्त ने वर्तमान में 67 परिवारों द्वारा मत्स्य पालन के कार्य को और भी वृहत करने का निदेश मत्स्य पदाधिकारी  प्रशांत कुमार दीपक को दिया। इसके अलावे उपायुक्त ने ज्यादा से ज्यादा विस्थापित परिवारों को मत्स्य पालन व केज कल्चर से जोड़ने निदेश जिला मत्स्य पदाधिकारी को दिया, ताकि विस्थापित परिवारों को आत्मनिर्भर बनाते हुए उन्हें आय के मार्ग से जोड़ा जा सके। इसके अलावे उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि मत्स्य पालन के क्षेत्र में जो भी सहयोग की आवश्यकता विस्थापित परिवारों को है उन्हें पूरा किया जाय। पुनासी डेम के माध्यम से मत्स्य विकास की प्रचुर संभावनाएं हैं। ऐसे में संबंधित विभाग तथा विस्थापित परिवारों की ओर से समेकित प्रयास की आवश्यकता है, ताकि मत्स्य पालन हेतु आधुनिक तकनीकों तथा पद्धतियों का समुचित उपयोग करते हुए अधिक से अधिक परिवारों को मत्स्य पालन हेतु प्रेरित किया जा सके।

इसके अलावे मीडिया प्रतिनिधियों से बात चीत करते हुए उपायुक्त द्वारा जानकारी दी कि देवघर जिले के पुनासी डैम व सिकटिया बराज में 12-12 लाख मछली का जीरा आज और कल तक में डाला जायेगा, ताकि मत्स्य के क्षेत्र में जो भी संभावनाऐं हैं उसे बेहतर बनाते हुए ज्यादा से ज्यादा लोगों को इससे जोड़ा जा सके।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे जिला मत्स्य पदाधिकारी प्रशांत कुमार दीपक के साथ-साथ संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मी आदि उपस्थित थे।

No comments