राजमहल विधायक केन्द्रीय मंत्री से मुलाकात कर क्षेत्र में एकलव्य विद्यालय की माँग किया ।



साहिबगंज संवाददाता:--विधायक अनंत ओझा ने केंद्रीय जनजाति मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा से रांची में मुलाकात कर शिक्षा सुविधाओं के विस्तार पर चर्चा की। साथ ही क्षेत्र में एकलव्य विद्यालय की माँग किया हैं।वही विधायक अनंत ओझा ने पत्र  में माध्यम से लिखा कि केंद्र सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दूरदर्शी नीतियों, कर्तव्यनिष्ठा से जनहित की भावना, देश हित की लालसा और अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति के जीवन में सुधार लाने की इच्छाशक्ति सरकार के हर निर्णय में दिखती है अनुसूचित जनजाति तथा आदिम जनजाति के बच्चों को उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार कृतसंकल्पित हो कर कार्य कर रही हैं। अंत्योदय की भावना को साकार करता 2021 आम बजट अभिनंदन योग्य है।यह भारतीय अर्थव्यवस्था के उन्नयन में मील का पत्थर साबित होगा। इसके माध्यम से समाज के सभी वर्गों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित होगा। विधायक ने आगे लिखते हुए कहा मै आपको ध्यान  आकृष्ट करना चाहूँगा कि आपके माध्यम से राज्य के जनजातीय समाज कल्याणार्थ एकलव्य विद्यालय खोलने की दिशा में सार्थक प्रयास सराहनीय रही है। ऐतिहासिक रूप से भी इतनी बड़ी संख्या में पूरे देश में मॉडल एकलव्य विद्यालय को खोला जाना आपके दूरदर्शी सोच का परिचायक है, जिससे झारखण्ड राज्य में जनजातीय समाज के लोग लाभान्वित होंगें। विधायक ने आगे पत्र लिखते हुए कहा इसी क्रम झारखण्ड में भी एकलव्य विद्यालय खोलने से यहाँ के जनजातीय समाज के लोगों को फायदा मिलेगा, जिस हेतु साहिबगंज जिला अन्तर्गत राजमहल विधान सभा क्षेत्र के प्रखण्ड क्रमशः उधवा, राजमहल एवं साहिबगंज सदर में एकलव्य विद्यालय खोला जाना अत्यावश्यक है। साथ ही जो बच्चे विद्यालय नहीं जा पाते है, उन्हें आवासीय सुविधा युक्त शिक्षा प्राप्त होने से लाभान्वित होंगें तथा सभ्य समाज की स्थापना का मार्ग प्रशस्त होगा।  विधायक ने आगे लिखा 

जनजातीय समाज के कल्याणा के आग्रह होगा कि मेरे राजमहल विधान सभा क्षेत्र के विषयगत प्रखण्डों में एकलव्य विद्यालय स्थापना हेतु एवं जनजातीय समाज को शिक्षण व्यवस्था दिलाने की दिशा में आपका योगदान सराहनीय रहेगा।

No comments