डायन कुप्रथा के उन्मूलन हेतु नुक्कड़ नाटक का आयोजन



देवघर।प्रखंड -सह-अंचल कार्यालय सारठ मे माँ शारदा संगीत प्रशिक्षण केन्द्र, देवघर के द्वारा पूरे प्रखंड मे कुल(17) स्थान पर अंचल कार्यालय, गोपीबाँध,मेन चौक, चिकनिया,बरमसिया, बडबाद निचे टोला, सेन टोला, नागरा, दूर्गा मंदिर कुकराहा, कुवामुंडा, सि.एच.सी,बरमसोली, भथरिया, वेलवरना, दरपा, दोम्हारी,पुरानी करहैया स्थान पर डायन कुप्रथा के उन्मूलन हेतु नुक्कड़ नाटक, गीत संगीत के माध्यम से यह जानकारी दी। किसी भी महिला या पुरुष को डायन कह कर प्रताड़ित या परेशान करना मानवता को ठेस पहूचाता है। यह गलत भ्रांति समाज में फैली हुई हैं। और ऐसे अंधविश्वास समाज को तोडऩे का काम करती हैं।ऐसे लोगों के ऊपर कानूनी कार्यवायी के तहत उसे सजा और र्जूमाना दोनो हो सकता है। इस लिए हम सब अफवाह से बचे अधंविश्वास मे न पड़े। हम सब मनुष्य जाती एक है और एक होकर रहे। किसी के भावना को ठेस न पहूँचाएे। तथा इस कलंक से समाज को बचाये । ये हमारी जिम्मेवारी है। श्री सिंहा ने कार्यक्रम कि प्रसंशा की। ऐसे समाजिक कार्य के लिए संस्था के सभी कलाकारों का मनोबल बढ़ाया।

No comments