कुंडहित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण का एक दिवसीय प्रशिक्षण प्रखंड क्षेत्र के दुकानदारों को दिया गया।



कुंडहित (जामताड़ा) :बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम का एकदिवसीय प्रखंड क्षेत्र के राशन दुकान, पान दुकान सहित आदि दुकानदारों  को प्रशिक्षण दिया गया ।मौके पर प्रशिक्षण कर्ता  के रूप में  फाइनेंस ऑफीसर एंड लॉजिस्टिक काउंसिल राहुल रॉय तथा सीसीएस के कार्यालय के जिला पदाधिकारी मनोज कुमार उपस्थित थे ।फाइनेंस ऑफिसर एंड लॉजिस्टिक काउंसिल राहुल रॉय ने प्रशिक्षण के दौरान उपस्थित सभी दुकानदारों को कोटपा अधिनियम 2003 की धारा 4,5,6 तथा 7 के मुख्य प्रावधान को विस्तृत रूप से जानकारी दिया। साथ ही साथ स्कूल तथा सर्वजनिक संस्था के एक सौ गज की दूरी पर कोई भी तंबाकू दुकान नहीं होना चाहिए। तंबाकू को कैसे नियंत्रण करें इसके बारे में जानकारी देते हुए कहा कि किसी सी तंबाकू दुकान में18 साल से कम उम्र के बच्चे को नहीं बैठाना है ।विद्यार्थी अगर तंबाकू की मांग करें तो तंबाकू ना देकर ,कोई भी अगर तंबाकू का सेवन करते हैं उसे तंबाकू जगह आजवाइन ,शॉप  हाजमोला आदि दे कर उसका तंबाकू सेवन को हटाया जा सकता है ,और भारत सरकार द्वारा बनाए गए निकोटीन मुक्त टेबलेट का सेवन करने से निकोटिन की मात्रा कम हो जाएगा। धीरे-धीरे तंबाकू छुटने लगेगा। झारखंड सरकार तंबाकू बेचने पर 1 साल का प्रतिबंध लगाया है ।अगर 1 साल के बाद तंबाकू बेचने का लाइसेंस बने तो दुकान में सिर्फ तंबाकू ही रहेगा खाद्य पदार्थ की सामान नहीं रखना है, अगर कोई तंबाकू के साथ खाद्य पदार्थ रखते पाया गया तो उसे जेल भेजा जाएगा ।उन्होंने कहा कि तंबाकू नियंत्रण करने के लिए तंबाकू नियंत्रण बैनर हर दुकान में लगाना है और लोगों को जागरुक कर तंबाकू नियंत्रण किया जा सकता है ।साथ ही साथ तंबाकू  से होने वाले बीमारी एवं हानि के बारे में जानकारी दिया.। 

मौके पर डॉक्टर समीर गोराई डीएफआईटी सुसेन चंद्र गोप, एन एम एस मनोज कुमार के अलावे प्रखंड क्षेत्र के दुकानदार उपस्थित थे।

No comments