सलाम भारत कार्यक्रम की निर्देशिका डॉ. नीतू अग्रवाल को सैमुएल फूटे स्मृति पुरस्का



देवघर : अपने शहर की पुत्रवधू डॉ. नीतू अग्रवाल को ब्रिटिश नाट्यकार सैमुएल फूटे की 300वीं जयंती के अंतर्गत वर्षभर कार्यक्रम के तहत स्थानीय विवेकानंद शैक्षणिक, सांस्कृतिक एवं क्रीड़ा संस्थान तथा योगमाया मानवोत्थान ट्रस्ट के युग्म बैनर तले आयोजित समारोह में 'सैमुएल फूटे स्मृति पुरस्कार' की मानद उपाधि से अलंकृत एवं विभूषित की गई। ज्ञात हो कि डॉ. नीतू एवं डॉल्फिन डांस एकैडमी के निदेशक अजीत केशरी ने पिछले वर्ष देवघर पुस्तक मेला में 'सलाम भारत' कार्यक्रम का निर्देशन में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था। ज्ञात हो कि नीतू का जन्म दो फरवरी, उन्नीस सौ इक्यासी में राजस्थान के अलवर जिले के खैरथल में सुरेश चंद अग्रवाल एवं उर्मिला देवी की कन्या के रूप में हुआ था। उन्होंने अपनी पढ़ाई की शुरुआत खैरथल स्थित आदर्श विद्या मंदिर से की थी। वर्ष 1996 में उन्होंने सरकारी बालिका विद्यालय से मैट्रिक परीक्षा में उत्तीर्णता प्राप्त की एवं आगे मुंबई से बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी की डिग्री हासिल की। वर्ष 2007 में शहर के जाने माने चिकित्सक डॉ. शंकर प्रसाद के पुत्र डॉ. अमित कुमार से उनकी शादी हुई और तब से देवघर में एक दन्त चिकित्सक के रूप अपनी सेवा देती आ रही है। सलाम भारत कार्यक्रम एक ऐसा कार्यक्रम था जिसकी प्रस्तुति कलाप्रेमियों के हृदय में एक गहरी छाप छोड़ रखी है। डॉ. नीतू फुर्सत के समय कला सम्बंधित कार्यक्रमों में बढ़चढ़कर भाग लेती है। इसके पूर्व उन्हें डॉ. पी. एस. दस्तूर अवार्ड, रोटरी युथ लीडरशिप अवार्ड भी प्राप्त हो चुका है। विवेकानंद संस्थान के केंद्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रदीप कुमार सिंह देव ने कहा कि सलाम भारत कार्यक्रम में कलाकारों ने राष्ट्रीय स्तर की भूमिका अदा की थी और जिसमें डॉ. नीतू अपना जीविकोपार्जन को छोड़कर निर्देशन में समय देती थी। डॉ. नीतू की इस सफलता से देवघर कला एवं संस्कृति परिषद के सचिव रामसेवक सिंह 'गुंजन', देवघर पुस्तक मेला के संयोजक डॉ. सुभाष चन्द्र राय, अध्यक्ष युधिष्ठिर प्रसाद राय एवं अन्य शुभचिंतकों ने उन्हें ढेर सारी शुभकामनाएँ दी।

No comments