स्वच्छता ग्राहीयों को कराया जा रहा है ओडीएफ प्लस का ट्रेनिंग कोर्स



साहिबगंज संवाददाता:--जिला जल एवं स्वच्छता समिति के तत्वधान में स्वच्छ भारत मिशन एकेडमी के द्वारा ग्राम स्तर पर स्वच्छताग्राहीयों के रूप में कार्य कर रहे जलसहियाओं के बीच एसबीएम एकेडमी का प्रमाण पत्र दिया गया।

मुख्य रूप से उक्त पाठ्यक्रम का मुख्य उद्देश्य स्वच्छता के क्षेत्र में कार्य कर रहे स्वच्छता ग्राहीयों के बीच स्वच्छता के सभी आयामों के बारे में जानकारी के साथ-साथ व्यावहारिक जानकारी उपलब्ध कराने की है इसी के तहत जिले अंतर्गत सभी स्वच्छता ग्राहीयों के बीच आईवीआर के माध्यम से 80 मिनट का वर्चुअल ट्रेनिंग कोर्स कराया जा रहा है एवं वैसे स्वच्छता ग्राही जिन्होंने सफलतापूर्वक यह ट्रेनिंग कोर्स पूर्ण किया है उनको यह प्रमाण पत्र दिया जा रहा है।प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाले जलसहियाओं ने बताया कि आईवीआर के माध्यम से प्रश्न उत्तर प्रक्रिया के  पहले जानकारी दी जाती है एवं उन्हीं जानकारी में से प्रश्न भी पूछे जाते हैं। उक्त पाठ्यक्रम में मुख्य रूप से ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के विषयों को कई खंडों में बांट कर प्रशिक्षण कराया जाता है। स्वच्छता ग्राहीयों को ग्राम स्तर पर अपने कार्यों को और प्रभावी ढंग से करने में मदद मिलेगा।

 जन जागरूकता में स्वच्छताग्राहीयों की भूमिका महत्वपूर्ण: प्रखंड विकास पदाधिकारी उधवा:

ग्राम स्तर पर कार्य कर रहे स्वच्छता ग्राहीयों की भूमिका समुदाय को स्वच्छता के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए काफी महत्वपूर्ण है एसबीएम एकेडमी के तहत स्वच्छता ग्राही यों को स्वच्छता की सभी आयामों का सैद्धांतिक जानकारी उपलब्ध कराने में यह पाठ्यक्रम काफी महत्वपूर्ण है। इससे समुदाय के बीच जन जागरूकता के कार्यों में बल मिलेगा।मौके पर पेयजल स्वच्छता प्रमंडल के कनीय अभियंता अनूप कुमार कुशवाहा स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वयक आशीष कुमार यादव प्रखंड समन्वयक राजेश सिंह एवं सोशल मोबिलाइजर पिनाकी घोष के अलावा दर्जनों स्वच्छता ग्राही उपस्थित हुए।


No comments