परिश्रम और संघर्ष जीवन का मूल मंत्र बनाना होगा



मधुपुर 18 जनवरी  शहर के पत्थर चपटी रोड स्थित महेंद्र मुनी सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के सभागार में सोमवार को मधुपुर थाना प्रभारी मनोज कुमार मल्लिक द्वारा महिला सशक्तिकरण विषय पर विद्यालय की छात्राओं के साथ संवाद का कार्यक्रम संपन्न किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ थाना प्रभारी के दीप प्रज्वलन के साथ हुआ। विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य शिवनाथ झा ने मंचासीन अधिकारियों का परिचय कराया। विद्यालय के सचिव सरोज कुमार मिश्रा ने पुष्पगुच्छ देकर मुख्य अतिथि सह मुख्य वक्ता मनोज कुमार मल्लिक का स्वागत किया ।अपने उद्बोधन में थाना प्रभारी ने बताया कि संघर्ष के माध्यम से ही किसी भी सफलता को प्राप्त किया जा सकता है ।परिश्रम के महत्व को उन्होंने अपने जीवन से जोड़कर कहा कि वह भी सामान्य ग्रामीण परिवार से जुड़े थे और परिश्रम के बल पर इस स्थान तक पहुंचे हैं। उन्होंने आगे बताया कि महिलाएं और बच्चियां तभी सशक्त होगी जब वे अपने अधिकार को जानेगी और उन अधिकारों को प्राप्त करने के लिए संघर्ष करेगी। जीवन में कभी संकोच नहीं करना चाहिए क्योंकि यह आगे बढ़ने में सबसे बड़ी बाधा है ।उन्होंने सोशल मीडिया के युवाओं द्वारा अनावश्यक प्रयोग पर चिंता जताई और इसे दूर रहने की भी सलाह दी ।वर्किंग लेडी या  अरनिंग लेडी का आज समाज में बड़ा महत्व है जो कि परिश्रम और लक्ष्य निर्धारण से ही संभव होगा। इसलिए उन्होंने छात्राओं को सलाह दिया कि परिश्रम और संघर्ष को मूल मंत्र बनाएं ।धन्यवाद ज्ञापन वीरेंद्र कुमार शाही ने तथा कार्यक्रम का संचालन इंदु बाला ने किया। कार्यक्रम में विद्यालय की सैकड़ों छात्राएं तथा आचार्य और दीदी जी उपस्थित रहे!

No comments