पत्रकार पर दर्ज एफआईआर से खिन्न अन्य पत्रकारों ने एसपी के नाम सौंपा ज्ञापन



सारठ -प्रखण्ड मुख्यालय परिसर में मंगलवार को सारठ प्रेस क्लब के सदस्यों ने पत्रकार को झूठे मुकदमे कर फंसाने के बिरुद्ध में एक द्विसिय धरना प्रदर्शन कार्य्रकम का आयोजित किया।

सारठ के पत्रकार ललित भारती उर्फ सोनू राय को झूठे मुकदमे में फंसाने से पत्रकार काफी आक्रोशित है।मालूम हो कि बीते एक जनवरी को सारठ बाजार स्थित राम बाबू गली के पीछे दो पक्षों के बीच हुई मारपीट को लेकर दर्ज मामले में पत्रकार को भी आरोपी बनाने पर सभी पत्रकारों ने धरना प्रदर्शन कर बीडीओ साकेत कुमार सिन्हा को पुलिस कप्तान के नाम पर एक ज्ञापन सौंपा।

बीडीओ साकेत सिन्हा से मिलकर सौंपे गये ज्ञापन में पत्रकारों द्वारा कहा गया कि जैसे ही राम बाबू के गली में झगड़ा-झंझट होने की जानकारी पत्रकार सोनू राय को हुई उनके द्वारा तत्क्षण मामले की जानकारी थाने के एएसआई अमरेश सिंह को दी गई। वहीं पुलिस के पहुंचने के बाद भी हल्ला-हंगामा होता देख पत्रकार भी मौके पर पहुंचे थे।

लेकिन उक्त घटना को लेकर थाने में प्रथम पक्ष द्वारा दर्ज थाना कांड संख्या 02/21 के प्राथमिकी में दूसरे पक्ष के आरोपितों के अलावे स्थानीय पत्रकार सोनू राय को भी अभियुक्त बना दिया गया है।जिससे पत्रकारों द्वरा पुलिस कप्तान से निष्पक्ष जांच की मांग किया गया है अन्यथा चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा।

मौके पर पत्रकार प्रदीप सिन्हा, मिथिलेश सिन्हा, अनुज भोक्ता, रमाकांत मिश्रा,शिवकुमार यादव,दिलीप महथा, बिक्रम तिवारी ,मुन्ना राय,  रंजन राउत,शुभम कुमार सिंह, मुकेश भोक्ता आदि मौजूद थे।

No comments