मजलिस एतिहाद -उल मुस्लिमीन एआई.एम.आई.एम अल्पसंख्यक दलितों और पिछड़ों का है आवाज



मधुपुर 12 जनवरी: अल्पसंख्यक दलितों और पिछड़ों के दर्द समझने और इनका हक का आवाज बुलंद  करने वाले पार्टी है एतिहाद उल मुस्लिमीन( ए आई एम आई एम )आजादी के बाद से ही इस देश में सभी पार्टियां अल्पसंख्यक दलित पिछड़ों का वोटबैंक बनाकर इस्तेमाल करते रहे और आज भी सभी पार्टियां इसे अपनाए हुए हैं वही भाजपा इस देश में समाज को बांट कर इस देश के खूबसूरती को मिटाने का काम किया है ऐसे पार्टी से लोगों को होशियार रहने की जरूरत है भाजपा सिर्फ दलितों पिछड़ों का वोट लेकर  पूंजीपतियों व्यापारियों के हक में काम कर रहे हैं और जिसका वोट लेकर गद्दी पर काबिज हुए हैं इनको अपने हाल पर छोड़ दिया है यह अफसोस की बात है जिसके वजह कर आज पूरे मुल्क में दलितों पिछड़ों अल्पसंख्यकों की हालत बद से बदतर हो गई है! इसलिए मैं आम जनता से यह अपील करना चाहता हूं के समाज को बांटने वाले भाजपा कांग्रेस और दिगर पार्टियों से होशियार रहने की जरूरत है आप की लड़ाई सिर्फ (ए आई एम आई एम) लड़ सकती है और आपकी आवाज सदन में उठा सकता है आप एक बार मजलिस को मौका दें उम्मीद दिलाता हूं के आपकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा यह बातें एआई एम आई एम  के नेता मधुपुर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी इकबाल अंसारी ने मधुपुर विधानसभा के करो प्रखंड के लालगढ़ मैदान में कार्यकर्ता सम्मेलन से संबोधित करते हुए कहा मौके पर अमरनाथ दास. शायर दिलबर शाही .रोशन हबीबा रोशनी .सुनील दास. मनोज दास. मुकेश. सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित रहे!

No comments