धान की खेती के लिए कम मात्रा में रासायनिक खाद का प्रयोग करें अधिक यूरिया का प्रयोग करने से फसलों के लिए जानलेवा साबित होती है:अजय कुमार



तालझारी/साहिबगंज:--प्रखंड सभागार में प्रखंड स्तरीय कृषि चौपाल कार्यशाला मे जिला सहकारिता पदाधिकारी रमेश झा ,उपपरियोजना निदेशक अजय कुमार पूरी,प्रखंड कृषि पदाधिकारी तालझारी प्रमोद कुमार,प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी डॉ अभिमन्यु ने सामुहिक रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया।कृषि एवं पशुपालन से संबंधित सभी पदाधिकारी कर्मचारियों ने किसान हित के लिए अनेकों बातें कहीं जिससे किसानों को अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो।वही उप परियोजना निदेशक अजय कुमार पूरी ने बताया कि धान की खेती के लिए कम मात्रा में रासायनिक खाद का प्रयोग करें अधिक यूरिया का प्रयोग करने से फसलों के लिए जानलेवा साबित होती है। कीटनाशक दवा क्रेटा साइकिलिंग का प्रयोग करें जो मेडिकल स्टोर में उपलब्ध है खैरा डोम बीमारी में प्रति हेक्टेयर धान रोपाई के समय 10 किलो जिंक का छिड़काव करें. इससे फसल अच्छी होगी और भी कृषि पदाधिकारियों ने दलहन, तिलहन,रवि फसल एवं खरीफ फसलों के विषयों में अनेकों जानकारियां किसानों को दी जैसे भूमि का चुनाव,बुवाई का उचित समय,उर्वरक,खरपतवार नियंत्रण,सिंचाई,उठा रोग,झुलसा रोग,कड़वा कीट एवं दीमक कीट नियंत्रण,खेती की तैयारी, अनुशंसित किस्में के बीज,रोग नियंत्रण,बीज उपचार,आदि विषयों पर जानकारी दी। कार्यक्रम में कई महिला एवं पुरुष ने कृषि एवं पशुपालन संबंधित अनेकों जानकारियां प्राप्त की।वही आईटीसी मिशन सुनहरा कल के अरुण कुमार ने किसानों को खेती के गुर सिखाए।अरुण कुमार हेल्थ एंड न्यूट्रिशन एजुकेशन एग्रीकल्चर एवं वाटर रिसोर्स फाइनेंसियल एवं स्किल डेवलपमेंट के विषयों पर चर्चा की मौके पर जेएसएलपीएस के गौरव कुमार,बी टी एम आत्मा सत्येंद्र कुमार,एटीएम रूबी खातून,वीज गुणन प्रक्षेत्र तालझारी के प्रक्षेत्र प्रभारी ओम प्रकाश पंडित,सुरेन्द्र पंडित,तालझारी प्रखंड के कृषि मित्र मोइनुद्दीन एवं विशेश्वर पंडित सहित सैकड़ो महिला एवं पुरुष किसानों ने भाग लिया।

No comments