जीवन अत्यंत मूल्यवान है, सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित रखें:-उपायुक्त



उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजुनाथ भजंत्री द्वारा समाहरणालय परिसर से राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह कार्यक्रम का शुभारंभ सभी को रोड सेफ्टी शपथ दिलाकर की गई। इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त मंजुनाथ भजंत्री द्वारा सड़क सुरक्षा माह को लेकर ‘‘सड़क सुरक्षा, जीवन रक्षा’’ थीम के तहत् समाहरणालय परिसर से रन फॉर सेफ्टी दोपहिया रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान में सभी लोग सहयोग करें एवं सड़क सुरक्षा से संबंधित नियमों का अक्षरशः पालन करें, ताकि सड़क दुर्घटनाओं में कमी लायी जा सके।

इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान मीडिया प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई कि आज से पूरे एक माह तक राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह का आयोजन 18.01.2021 से 17.02.2021 तक किया जाएगा। ऐसे में जिला प्रशासन का प्रयास रहेगा की लोगों को सड़क सुरक्षा नियमों के पालन के प्रति जागरूक करना। आज रैली आयोजन का मुख्य उद्देश्य भी शहर के मुख्य चौक-चैराहे, बाजारों में सड़क सुरक्षा से संबंधित प्रचार-प्रसार व लोगों को जागरूक करना, ताकि सड़क पर वाहन चलाने वाले चालकों को जागरूक किया जा सके। आगे उपायुक्त ने कहा कि सड़क दुर्घटना के वजह से होने वाली क्षति एक ऐसी क्षति है, जिसकी पूर्ति करना संभव नहीं है इसलिए आवश्यक है कि हम सभी सावधान होकर वाहन चालन करें और सड़क सुरक्षा संबंधी नियमों का अक्षरशः पालन करें, ताकि सड़क दुर्घटना में कमी लायी जा सके। इसके अलावा उन्होंने  कहा कि सड़क सुरक्षा से संबंधित नियमों यथा-सड़क के बाँयी ओर चलना, शराब पीकर या फोन पर बात करते हुए गाड़ी न चलाना, हेलमेट का प्रयोग करना, अचानक से यू-टर्न न करना, रैश ड्राईविंग न करना, ओवर टेक न करना आदि नियमों की लोगों को जानकारी देने हेतु एक माह तक सघन जांच अभियान भी चलाया जाएगा। साथ हीं उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे आबादी बढ़ रही है, वैसे-वैसे वाहनों की संख्या में भी वृद्धि हो रही है। ऐसे में सुरक्षा के दृष्टिकोण से आवश्यक है कि सड़कों पर वाहन चलाते समय सड़क सुरक्षा से संबंधित यातायात नियमों का सही ढंग से पालन किया जाय। वहीं उन्होंने कहा कि यद्यपि सड़कों का चैड़ीकरण, रोड डिभाइडर, स्पीड ब्रेकर एवं पथ प्रदर्शक साईनेज के अधिष्ठापन आदि कार्य करायें जा रहे हैं, फिर भी सड़क दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है, जिसका सिर्फ एक हीं कारण हो सकता है और वह है लोगों द्वारा यातायात नियमों का पालन न करना।

■ सड़क सुरक्षा नियमों का पालन के उद्देश्य से उपायुक्त ने रोड सेफ्टी की दिलाई शपथ....

इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त  मंजुनाथ भजंत्री ने एक जिम्मेदार वाहन चालक होने के नाते सभी को शपथ दिलाते हुए कहा कि मैं हमेशा आईएसआई मार्क वाला हेलमेट पहनकर ही दोपहिया वाहन व सीट बेल्ट लगाकर चरपहिया वाहन चलाऊंगा। वाहन चलाते समय हमेशा ड्राईविंग लाईसेंस और अन्य आवश्यक कानूनी दस्तावेज को साथ रखूंगा। कभी भी ड्राईव करते समय मोबाईल पर बात नहीं करूँगा। कभी भी सड़क के बीच खड़ा नहीं रहूँगा और साथ ही यात्रियों से बहस नहीं करूंगा। सबसे महत्वपूर्ण कभी तेज गति से वाहन नही चलाऊंगा। वाहन चलाते समय कभी राहगीरों, खास तौर पर बुजुर्गों, महिलाओं, बच्चों, विकलांगों और सड़क पर घुमने वाले पशुओं पर खास ध्यान दूंगा। इसके अलावे वाहन चलाते समय हमेशा एम्बुलेंस और फायर वाहनों को आगे जाने के लिए जगह दूंगा। कभी भी सड़क की गलत साईड से ओवरटेक नहीं करूंगा। वाहनचालक होने की वजह से आँखों की नियमित रूप से जांच कराता रहूँगा। थका हुआ या तनावग्रस्त होने पर ड्राईव नहीं करूंगा। न ही वाहन का दुरूपयोग करूंगा और उसकी अच्छी तरह से देखभाल व वाहन को फिट रखूगा ताकि वह पर्यावरण को प्रदूषित ना करे। साथ ही स्कुल, अस्पताल जैसे हॉर्न निषेधित क्षेत्रों में कभी भी हॉर्न नहीं बजाऊंगा। सड़क और ट्रैफिक के सभी नियमों का पालन करूँगा और सड़क सुरक्षा नियमों पर ध्यान दूंगा

इस मौके पर उपरोक्त के अलावे जिला परिवहन पदाधिकारी  फिलबुयस बारला, मुख्यालय पुलिस उपाधीक्षक  मंगल सिंह जामुदा, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, जिला शिक्षा अधीक्षक  बीना कुमारी, आपदा प्रबंधन पदाधिकारी  राजीव कुमार, यातायात प्रभारी  शेरू रंजन, डॉ सुनील तिवारी, डॉ सत्येंद्र चौधरी, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, परिवहन कार्यालय के अधिकारी व कर्मियों के साथ आई0टी0 मैनेजर, सड़क सुरक्षा  रविश कुमार गुप्ता, सड़क सुरक्षा समिति के सदस्य, सदस्य, पी आई यू सदस्य, कार्यालय कर्मी एवं अन्य उपस्थित थें।

No comments