किडनी बीमारी से ग्रसित हवलदार की हुई मौत, परिजनों में मायूसी

हवलदार के मौत से शोकाकुल परिजन

सारठ : थाना क्षेत्र के जमुआसोल पंचायत के चक-नवाडीह गांव के हवलदार छतीस हांसदा 58 वर्ष की गुरुवार को मौत हो गई। परिजनों के अनुसार छतीस लगभग एक साल से किडनी बीमारी से ग्रसीत था। बताया कि बीते बुधवार को अचानक तबियत बिगड़ने से उसे बड़जोरी के नर्सिंग होम में भर्ती कराया। जहां चिकित्सक ने इलाज के बाद उन्हें रांची ले जाने की सलाह दी थी। जिसके बाद परिजन ने उन्हें घर ले आया और रांची ले जाने की तैयारी कर रहे थे। इसी बीच उनकी मौत हो गई।
1993 से पुलिस में थे : मृतक हवलदार की पत्नी मिलिता मरांडी, पुत्र सुभाष हांसदा, कलेश्वर हांसदा व वारलिस हासदा ने बताया कि उनका 1993 में पुलिस में ज्वाइनिंग किये थे। पहले पटना पुलिस लाइन में सिपाही थे। वर्ष 2012 से बिहार के मोतीहारी न्यायलय में हवलदार के पद पर कार्यरत थे। बताया गया कि 2023 के 31 मार्च में सेवानिवृत्त होते। बताया गया कि बीमारी के चलते पिछले वर्ष मार्च माह में वे मोतिहारी से घर आये थे। हवलदार के मौत से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। परिजन साजन्ति हेम्ब्रम, जोबामनी टुडू, अनादि सोरेन, सुनीता हांसदा, मुन्नू सोरेन आदि ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि मृतक घर का एक मात्र कमाने वाले थे।

No comments