मेरी बेटी मेरी पहचान”कार्यक्रम अन्तर्गत कार्यशाला का हुआ आयोजन।

 


साहिबगंज संवाददाता:--सक्षम बिटिया अभियान के अंतर्गत मेरी बेटी मेरी पहचान कार्यक्रम गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर मंगलवार को सभी प्रखंड संसाधन केंद्र में जिला प्रशासन के सहियोग से पीरामल फाउंडेशन की ओर से कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें प्रखंड के बीइइओ,बीपीओ,सीआरपी,बीआरपी महिला स्वयंसेवक और अन्य गणमान्य अतिथियों को सक्षम बिटिया अभियान के बारे मे जानकारी दी गई। दरअसल कोरोना काल के कारण बच्चों की पढ़ाई मे तकरीबन 11 महीने से काफी प्रभावित हुई है। कोरोना महामारी ने कई तरह से सामाजिक गतिविधियों को प्रभावित किया है। कई शोध में ये सामने आया है कि आर्थिक और सामाजिक कारणों से लगभग 2 करोड़ बच्चे अब स्कूल नहीं लौट पाएंगे। जिसमें छात्राओं की संख्या अधिक होगी। रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं के खिलाफ हिंसा और शोषण के मामले तेजी से बढ़े हैं। ऐसे में नीति आयोग के साथ मिलकर जिला प्रशासन एवं पिरामल फाउंडेशन ने सक्षम बिटिया अभियान की शुरुआत की है जिसमें महिला स्वयंसेवक की मदद से सामाजिक, भावनात्मक और नैतिक गुणों का विकास कर बेटियों को सक्षम किया जाएगा। सामजिक, भावनात्मक और नैतिक गुणों के विकास की चर्चा नई शिक्षा नीति में भी की गई है । 

कार्यक्रम में पिरामलफाउंडेशन के प्रशिक्षक ने बताया की  की महिलाएं इस ब्रह्मांड में किसी भी बच्चे की पहली शिक्षिका हैं, इसलिए क्यों न हम उन कौशल को बढ़ाने और उन्हें समर्थन देने के लिए अधिक समर्थन दें। इसमें हमारी माताओं और बहनों को अन्य बच्चों के साथ बातचीत करने का अवसर मिलेगा। महिला स्वयंसेवक की मदद से सक्षम बनेगी बेटियाँ।इस अभियान मे जूडने के लिए 9709922013 पर कॉल या व्हाट्सएप कर सकतें हैं।


No comments