मनरेगा,प्रधानमंत्री आवास योजना एवं अन्य विकास कार्यों की समीक्षा बैठक हुई आयोजित



साहिबगंज संवाददाता:--समाहरणालय स्थित सभागार में उपायुक्त राम निवास यादव की अध्यक्ष्ता में प्रधानमंत्री आवास योजना एवं मनरेगा,पीएमएवाय,तथा 15वें वित्त आयोग के कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

बैठक में उपायुक्त ने दीदीबाड़ी योजना की समीक्षा करते हुए संबंधित कर्मियों से प्रखंडवार प्रगति अद्यतन स्थिति की जानकारी ली।इस दौरान बताया गया की जिले को माह अक्टूबर से फ़रवरी तक 20000 लाभुकों को इस योजना का लाभ पहुंचाने का लक्ष्य मिला था जिसमे 18141 को लाभान्वित किया जा चुका है।नाला के पुनर्जीवन का अधतन प्रतिवेदन की समीक्षा करते हुए पाया गया की 18 नालों पुनर्जीवन पूर्ण किया गया है।सोकपिट निर्माण की समीक्षा के दौरान बताया गया की 2950 सोकपिट निर्माण के लक्ष्य के विरुद्ध 2500 से ज़्यादा सोकपिट निर्माण पूर्ण किया गया है।रेनवाटर हार्वेस्टिंग की समीक्षा करते हुए मिले लक्ष्य 815 रेनवाटर हार्वेस्टिंग निर्माण के विरुद्ध  778 निर्माण पूर्ण किया गया है।उपायुक्त ने बैठक में वृक्षारोपण की समीक्षा करते हुआ वृक्षारोपण के पश्चात पेड़ की मोनिटरिंग करते रहने एवं उनकी समुकजोत देख रेख करते रहने का निर्देष दिया।

प्रधनमंत्री आवास योजना की समीक्षा:

बैठक में उपायुक्त ने प्रखंडवार प्रधनमंत्री आवास योजना की जानकारी, बचे हुए आवास निर्माण की वर्तमान स्थिति,लक्ष्य के अनुरूप हुई कार्यो, किश्तवार लाभुकों के भुगतान,पेन्डिंग आवास की समीक्षा करते की।इस दौरान उन्होंने सभी बीडीओ से पूर्व की तुलना में हुए प्रगति की जानकारी प्राप्त की तथा उन्हें प्रगति करने से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए।इस दौरान उन्होंने आवास कार्यों में कार्यरत मजदूरों के लंबित राशि की जानकारी प्राप्त करते हुए जिन मजदूरों का भुगतान लंबित है उन्हें तत्काल भुगतान की राशि देने का निर्देश दिया।इसके अलावे उन्होंने पंचायती राज,जेएसएलपीएस के अंतर्गत चल रहे कार्यों की भी समीक्षा की।बैठक में उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को सरकार द्वारा जन कल्याण हेतु चलाई जा रही योजनाओं को प्राथिमकता से शत प्रतिशत धरातल पर उतारने हेतु आवश्यक निर्देश दिया।

कालाजार उन्मूलन हेतु छिड़काव:

बैठक के दौरान उपायुक्त ने कहा कि आगामी 15 फरवरी से जिले में कालाजार उन्मूलन हेतु आईआरएस छिड़काव किया जाना जिसके लिए जेएसएलपीएस के सखी मंडल के समूह की महिलाएं एवं सेविका सहिया, ग्राम प्रधान, प्रमुख आदि जो इन क्षेत्रों से भलीभांति परिचित हैं उनसे समन्वय स्थापित कर यह कार्य प्राथमिकता से कराएं ताकि जिले से कालाजार पूर्ण रूप से सफाया हो सके।उन्होंने कहा कि छिड़काव के दौरान संबंधित कर्मी घर से बीमार व्यक्ति एवं बीमारी का कारण आदि आवश्यक डाटा भी ले ताकि उक्त व्यक्ति का इलाज हो सके एवं कालाजार,मलेरिया आदि की पहचान भी हो सके।उन्होंने बताया कि कालाजार खोज अभियान 8 फरवरी से शुरू किया जा रहा है जिसमें सेविका, सहायिका घर घर जाकर कालाजार से पीड़ित मरीजों को चिन्हित करेगी जिससे बीमार व्यक्ति की पहचान कर उनका इलाज संभव हो सकेगा। इसके लिए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी संबंधित कर्मी से अपेक्षाकृत सहयोग करें एवं इस अभियान को सफल बनाने में अपनी भूमिका निभाएं।बैठक में उप विकास आयुक्त प्रभात कुमार जिला पंचायती राज पदाधिकारी ओंकार नाथ,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी बीपीओ,सभी ब्लॉक कॉर्डिनेटर एवं अन्य उपस्थित थे।

No comments