गंभीर बीमार महिला का स्वास्थ्य जांच करते डॉक्टर इकबाल खान!



मधुपुर 16 जनवरी:  शहर के नबी बख्श रोड स्थित 35 वर्षीय महिला रुकसाना खातून गंभीर रूप से बीमार है। वह करीब 8 माह से बिस्तर पर पड़ी है। जब इसकी सूचना अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद को मिली तो तत्काल अनुमंडल अस्पताल की मेडिकल टीम को महिला के इलाज के लिए भेजा। महिला का इलाज करने पहुंचे डॉ इकबाल खान को देखते ही छोटी छोटी दो लड़कियां बोलने लगी डॉक्टर अंकल मेरी अम्मी को बचा लीजिए। मेडिकल टीम में शामिल डॉ इकबाल खान ने बच्चियों को समझा कर शांत किया। डॉक्टरों ने रुखसाना का कोरोना वायरस के साथ स्वास्थ्य जांच किया। कोरोना वायरस का जांच निगेटिव आया है। मेडिकल टीम जांच के बाद रिपोर्ट अनुमंडल पदाधिकारी को सौंप देगी। चिकित्सीय रिपोर्ट के अनुसार महिला को ऑपरेशन के लिए रिम्स रांची या अन्य हायर मेडिकल सेंटर भेजने की व्यवस्था अनुमंडल प्रशासन करेगी। महिला को चार छोटे-छोटे बच्चे हैं। पति मोहम्मद सादिक मजदूरी करता है। पति ने बताया करीब एक वर्ष पूर्व जब रुखसाना का तबीयत खराब हुआ तो वह अपने स्तर से पटना, बनारस आदि अस्पताल ले जाकर इलाज कराया। महिला के शरीर में खून की कमी है।  खून की कमी दूर होने पर डॉक्टर शौच नाली का ऑपरेशन करेंगे। पेट दर्द से रुखसाना हमेशा रोते बिलखते रहती है। गरीब परिवार की दयनीय स्थिति है। अनुमंडल पदाधिकारी योगेंद्र प्रसाद की संवेदनशीलता की सराहना स्थानीय लोगों ने की है। महिला के इलाज के लिए लाईट एंड द वे फाउंडेशन, पूर्व पार्षद राशिद खान, युवक कांग्रेस मधुपुर विधानसभा अध्यक्ष मो. सैफ समेत कई लोग आगे आए हैं। स्थानीय लोगों ने भी महिला के इलाज के लिए हर संभव सहायता करने की बात कही है!

No comments