उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने रिमांड होम का औचक निरीक्षण कर विधि-व्यवस्था व सुरक्षा व्यवस्था को लिया जायजा



उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ने महिला रिमांड होम का निरीक्षण कर विधि व्यवस्था व सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। इसके अलावा निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त ने रिमांड होम रहने वाली बच्चिओं को दी जाने वाली सुविधाओं व व्यवस्थाओं से अवगत हुए। इसके अलावे बच्चियों के सम्पूर्ण विकास हेतु उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि ज्ञानवर्द्धन मनोरंजन के साथ बच्चियों को मानसिक व शारीरिक रूप से मजबूद बनाने के उद्देश्य से बच्चियों को उनके मन के मुताबित कार्यों से जोड़ते हुए उन्हें बेहतर नागरिक बनाने का प्रयास करें। साथ हीं बच्चियों का मनोबल बढ़ाने के उद्देश्य से सिलाई-कढ़ाई व कम्प्यूटर शिक्षा से जोड़ें, ताकि इन्हें समाज की मुख्यधारा से जोड़ा जा सके। इस दौरान उपायुक्त ने सम्प्रेक्षण गृह की समूचित व व्यापक साफ-सफाई, शौचालय की साफ-सफाई व खेल, पठन-पाठन की व्यवस्थाओं को पूरी तरह से सुदृढ़ करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया। साथ हीं बच्चियों की सुविधा हेतु 05 सिलाई मशीन व कम्प्यूटर सेट अप को रिमांड होम में लगाने के का निदेश संबंधित अधिकारियों को दिया।

औचक निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त ने रिमांड होम की बच्चियों से मुलाकात कर मिलने वाले सुविधाओं व व्यवस्थाओें से अवगत हुए।

उपायुक्त ने महिला सम्प्रेक्षण गृह की बच्चियों से मुलाकात कर उनका हाल-चाल लिया और उनके आवासन सुविधाओं का अवलोकन किया। इसके अलावे उन्होंने बच्चियों को मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। साथ हीं किसी भी प्रकार के समस्या व सुझाव से अवगत कराने की बात कही। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने उत्क्रमित विद्यालय बाल सुधार गृह का निरीक्षण कर वहां रह रही बच्चियों के पठन-पाठन को और भी बेहतर करने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि बच्चियों को एक अच्छा माहौल दिया जाय, ताकि जब वे यहां से बाहर निकले तो एक अच्छे नागरिक बने। उन्होंने आगे कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाय कि यहां बच्चियों को सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करायी जाय एवं पठन-पाठन के अलावा पाठ्यक्रम सहगामी अन्य क्रियाकलापों में भी उनकी रूचि उत्पन्न की जाय, ताकि इससे उनके अंदर छिपी प्रतिभा को बाहर लाकर उन्हें एक अच्छा नागरिक बनने में सहयोग किया जा सके।  

■ कोरोना संक्रमण व बर्ड फ्लू को लेकर सावधानी व सतर्कता बरतने की आवश्यकताः- उपायुक्त ....

इसके अलावे रिमांड होम के व्यवस्थाओं के अवलोकन के क्रम में उपायुक्त ने रसोई घर, वार्ड रूम, स्टोर रूम, शौचलय आदि का निरीक्षण कर संबंधित विभाग को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। इसके अलावा उन्होंने साफ-सफाई की उचित व्यवस्था के साथ गुणवत्तापूर्ण भोजन बच्चिओं को मिले इसका विशेष ध्यान रखें। साथ हीं संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि जिन बच्चियों का कार्यकाल या उम्र की सीमा पूरी हो चुकी है। उनकी सूची बनाकर उपायुक्त कार्यालय को समर्पित करें, ताकि उन्हें उनके गंतव्य स्थान तक भेजा जा सके। सबसे महत्वपूर्ण वर्तमान में कोरोना संक्रमण व बर्ड फ्लू को लेकर विशेष सावधानी व सर्तकता बरतने का निदेश संबंधित अधिकारियों को उपायुक्त ने दिया।

■ सुरक्षा-व्यवस्था का रखे विशेष रूप से ख्यालः-उपायुक्त ....

निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। साथ ही रिमांड होम में लगे सीसीटीवी कैमरों की जानकारी लेते हुए तैनात कर्मियों व जवानों को विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश दिया। 

इस दौरान उपरोक्त के अलावे बाल विकास परियोजना पदाधिकारी  प्रभावती,  सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मी आदि उपस्थित थे।

No comments