झारखंड विधानसभा के अनुसूचित जाति/जनजाति/अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण समिति की समीक्षा बैठक आयोजन



परिसदन,देवघर में मननीय अध्यक्ष  लोबिन हेम्ब्रम की अधयक्षता में झारखंड विधानसभा के अनुसूचित जाति/जनजाति/अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण समिति की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान देवघर जिला अंतर्गत चल रहे विभिन्न योजनाओं की बिदुवार समीक्षा समिति द्वारा की गई।

इसके अलावे बैठक में समिति के सभापति लोबिन हेंब्रम एवं कमिटी के सदस्यों द्वारा अनुसूचित जाति, जनजाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण से संबंधित योजनाओं व कार्यो के प्रगति का संबंधित पदाधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली गई एवं उचित दिशा निर्देश दिया गया। कल्याण विभाग की योजनाओं का समीक्षा करते हुए पूर्व के वित्तिय वर्ष में किये गए कार्यो की समीक्षा करते हुए उन्होंने जिला कल्याण पदाधिकारी से विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं उसकी प्रगति के संदर्भ में वर्ष वार जानकारी ली। इस दौरान जिला कल्याण पदाधिकारी ने समिति को सभी योजनाओं के संबंध में अद्यतन जानकारी दी । 

इसके अलावे बैठक के दौरान एक-एक कर अन्य विभागों की विस्तृत समीक्षा की गई। इस दौरान समिति ने प्रत्येक विभाग के वरीय अधिकारियों से कार्य योजना बनाकर लाभुकों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिया। तथा लंबित योजनाओं को जल्द से जल्द पूर्ण करने का भी निर्देश दिया। 

युवाओ को रोजगार से जोड़ने हेतु करे व्यापक प्रचार-प्रसार..........

उद्योग विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए समिति के सदस्यों द्वारा जानकारी ली गई कि देवघर जिलान्तर्गत कितने युवाओं को नए उद्योग स्थापित करने हेतु ऋण मुहैया कराया गया है।  साथ ही सभापति द्वारा महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र को निदेश दिया कि उद्योग केंद्र द्वारा संचालित योजनाओं पीआरडी के माध्यम से वयापक प्रचार-प्रसार करवाया जाय ताकि अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार से जोड़ा जाय साथ ही जिला में नए रोजगार के अवसर पैदा की जा सके ताकि यह से रोजगार को लेकर होने वाले पलायन को रोक जा सके।

 सभापति द्वारा जिला सहकारिता पदाधिकारी को निदेश दिया कि जिले के सभी निबंधित किसानों से शतप्रतिशत धान अधिप्राप्ति सुनिश्चित किया जाय साथ ही सभी को उनको राशि भी समय से उपलब्ध कराया जाय। किसी भी किसान को धान उपलब्ध कराने हेतु अधिक दूरी तय न करना पड़े इस बात भी ख्याल विभाग द्वारा रखा जाय।  इस हेतु आवश्यक हो तो धान अधिप्राप्ति केंद्रों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। झारखंड विधानसभा के अनुसूचित जाति/जनजाति/अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण समिति के सदस्यों द्वारा जिले के अन्य विभागों द्वारा वितीय वर्ष 2017-18, 2018-19, 2019-20, 2020-21 में किये जा रहे कार्यो की समीक्षा की गई एव सभी को निदेशीत किया गया कि योजनाओं का क्रियान्वयन इस प्रकार से किया जाय कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक इसका का लाभ मिल सके।

बैठक में उपरोक्त के अलावे समिति के सदस्य अमित यादव, कोचे मुंडा आदि उपस्थित थे। उपविकास आयुक्त संजय सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. एस के मेहरोत्रा, अपरसमाहर्ता  चंद्र शेखर प्रसाद सिंह, निदेशक जिला ग्रामीण विकास अभिकरण  नयनतारा केरकेट्टा, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, जिला खनन पदाधिकारी  राजेश कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकरी  माधुरी कुमारी, विभिन्न विभागों कार्यपालक अभियंता व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

No comments