13 लाख रुपया उपलब्ध करवाया था विधायक ने पीएचडी बिभाग को



देवघर-सारठ प्रखण्ड के सारठ डाकबंगला परिसर में बना पानी का टँकी अब अपनी बेवसी पर जहां एक ओर खड़ा हो लोगों को मुंह चिढ़ा रहा है तो वहीं सारठ बाजार और आसपास के लोगों की हलक बिना पानी सप्लाई के सुख रही है।

वैसे अब आहिस्ते आहिस्ते मौसम भी अठखेलियाँ करना शुरु कर दीया है थोड़े ही दिनों के बाद गर्मी का मौसम भी अपनी तपिश के धमक के साथ पहुंच जाएगी पर अभी से ही सारठ स्थित पानी के टँकी से लोगो को पानी सप्लाई बंद करवा दिया गया है और कारण बताया जा रहा है कि पानी की टँकी से लोगों को गन्दी पानी सप्लाई किया जा रहा था।

वहीं उपभोक्ताओं की मानें तो पानी टँकी में पानी को बिना चढ़ाए नदी के माध्यम से पहुंचने वाली गन्दी पानी का डायरेक्ट सप्लाई किया जा रहा था इतना ही नहीं बिना फिल्टर के पानी सप्लाई के कारण गंदगी और सड़ान्ध भरी दुर्गंध से आम लोग काफी परेशान थे ।

वही इस सम्बंध में पीएचडी विभाग के इंजीनियर से बात करने पर बताया गया कि स्थानीय मुखिया ने पानी की सप्लाई को बन्द करवाया है।

वहीं पंचायत के मुखिया ने इस सम्बंध में बताया की गंदी पानी के सप्लाई से आम ग्रामीण काफी परेशान थे विभाग को इसकी साफ सफाई के लिए कहा गया है जबतक पानी को पुनः फिल्टर करने की व्यवस्था नहीं होती है तबतक सप्लाई को बन्द रखा जाएगा।ज्ञात हो कि सारठ विधायक रणधीर सिंह ने 13ह लाख रुपया पीएचडी बिभाग को दिया था टँकी और इस मद में इसके रख रखाव के लिए पर अब कोई नहीं है इसकी सुधि लेनें वाला।

बहरहाल पानी के फिल्टर करने की व्यवस्था को छोड़कर सप्लाई बंद करवा देना यह तो बड़ा आसान सा काम है पर विभाग को चाहिए कि जल्द से जल्द सभी चीजों को दुरुस्त कर लोगों के घरों में पानी की सप्लाई की व्यवस्था करें।

No comments