युवाओं को उनकी योग्यता के अनुसार जिले में हीं मुहैया कराया जायेगा रोजगारः- उपायुक्त



उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में District skill committee की बैठक समाहरणालय सभागार में आयोजित की गयी। इस दौरान उपायुक्त द्वारा जिला स्तर पर पूर्व में व वर्तमान में किये जा रहे कार्यों की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को बेहतर कार्य योजना बनाने का निदेश दिया गया। साथ हीं उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि जिले में बेहतर रोजगार के विकल्प व प्रशिक्षण की व्यवस्था को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से इस कमिटि का गठन किया गया है, ताकि सरकारी व गैर सरकारी संस्था आपसी समन्वय स्थापित करते हुए ज्यादा से ज्यादा रोजगार का सृजन जिले में हीं हो सके। राज्य सरकार व जिला प्रशासन की पहली प्राथमिकता है कि ज्यादा से ज्यादा रोजगार के साधन अपने जिले में हीं लोगों को उपलब्ध कराया जा सके। 

समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि जिला अन्तर्गत वैस गैर सरकारी प्रतिष्ठानों अथवा वैसे संस्थानों का रजिस्ट्रड कर डाटा बेस तैयार किया जाय, ताकि उन्हें उनकी जरूरत और योग्यता के अनुरूप प्रशिक्षित लोगों को उक्त संस्थानों में रोजगार मुहैया कराया जा सके। इस हेतु जरूरी है कि जिला प्रशासन के द्वारा मास्टर प्लान तैयार करते हुए आप सभी के आपसी सहयोग से यहां के लोगों को रोजगार दिया जा सके। साथ हीं एम्स, एयरपोर्ट, प्लास्टिक पार्क, पर्यटन क्षेत्र, ऑटोमोबाइल क्षेत्र के अलावा जिले में चल रहे प्रशिक्षण क्षेत्रों से जोड़ने का कार्य करें। वर्तमान में महत्वपूर्ण है कि जिले में कौशल प्रयासों के बेहतर समन्वय के लिए जिला समितियों की भागीदारी को बढ़ाते हुए रोजगार का श्रृजन करना। आज की बैठक के आयोजन का उद्देश्य कौशल को आकांक्षात्मक बनाकर युवाओं की वास्तविक क्षमता को अनलॉक करना था और उनके लिए स्थायी आजीविका मार्ग का निर्माण करना। 

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने सभी गैर सरकारी संस्थाओं से भी अपील है कि कोरोना काल में जिस प्रकार आपसबों ने सहयोग किया है, वो वाकई काबिले तारीफ है। वर्तमान में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। ऐसे में एक बार फिर से आप सभी से आग्रह होगा कि आप सभी लोगों को कोरोना वायरस से बचाव हेतु जागरूक करें एवं जरूरतमंद लोगों के बीच मास्क का वितरण कर उन्हें मास्क पहनने एवं सामाजिक दूरी का पालन करने हेतु प्रेरित करें। इसमें सभी वर्ग के लोगों का सहयोग आपेक्षित है।

इस दौरान उपस्थित अधिकारियों व प्रतिनिधियों द्वारा विभिन्न पहलुओं पर अपने क्षेत्रीय दृष्टिकोण को साझा किया , जिसमें प्रशिक्षुता , दीर्घकालिक कौशल और उद्यमिता , शॉर्ट टर्म स्किलिंग और प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, पीएमकेवीवाई से संबंधित विस्तृत चर्चा की गयी।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी जिला परिषद, देवघर, जिला शिक्षा पदाधिकारी, देवघर, सहायक श्रमायुक्त, देवघर, जिला उद्योग पदाधिकारी, देवघर,  जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी, देवघर, जिला योजना पदाधिकारी, देवघर, जिला कल्याण पदाधिकारी, देवघर, अग्रणी बैंक प्रबंधक, देवघर, प्राचार्य, नोडल संस्थान/औद्योगिकी प्रशिक्ष संस्थान,देवघर, निदेशक, आरसेटी, अध्यक्ष,  संथाल परगना चेम्बर ऑफ काॅमर्स, सचिव, देवघर चेम्बर ऑफ काॅमर्स, डीडीएम एम्स, देवघर, निदेशक, एयरपोर्ट अथॉरिटी इंडिया, देवघर एवं सभी कौशल प्रशिक्षण प्रदाता, देवघर एवं संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।

No comments