थाना प्रभारी द्वारा गठित टीम ने पांच ट्रैक्टर को किया जब्त



सारठ : पुलिस के लाख प्रयास के बावजूद बालू का अवैध कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को प्रशिक्षु आईपीएस सह सारठ थाना प्रभारी कपिल चौधरी द्वारा गठित पुलिस टीम ने थाना क्षेत्र के विभिन्न नदी घाटों में छापेमारी अभियान चलाया। जिसमें पांच ट्रैक्टर को जब्त करके थाने लाई गई है। गठित छापेमारी टीम का नेतृत्व जेएसआई यशवंत कुमार सिंह कर रहे थे। छापेमारी टीम द्वारा अजय नदी के महापुर घाट से चार ट्रेक्टर जिसमें तीन स्वराज व एक आयशर (चारों गाड़ी बिना नंबर) एवं एक अजय नदी के गंहजोरी घाट से महिंद्रा ट्रैक्टर (बिना नंबर) का अवैध बालू लदा जब्त किया गया है।जेएसआई यशवंत सिंह ने बताया कि महापुर घाट से जब्त चारों ट्रैक्टर के चालक पुलिस को आते देखकर घाट पर ही बालू को अनलोड कर भागने के फिराक में दिखे, जिसे खदेड़ कर पकड़ा गया। बताया गया कि जब्त पांचों गाड़ियों की जांच पुलिस द्वारा की जा रही है। जिसमें कुछ गाड़ी में सारठ बीडीओ सह प्रभारी सीओ द्वारा पास निर्गत करने का मामला भी सामने आया है। जिसका जांच किया जा रहा है। पुलिस का कहना है कि पास के नाम पर बालू का अवैध ढुलाई बालू कारोबारी द्वारा लगातार किया जा रहा है। बताया गया कि दर्जनों ट्रैक्टरों में अंचल द्वारा निर्गत पास को ट्रैक्टर पर चिपकाकर बालू का अवैध कारोबार धड़ल्ले से किया जा रहा है। छापेमारी टीम में जेएसआई यशवंत सिंह के अलावे एएसआई अशोक कुमार पांडेय, अमरेश सिंह व पुलिस के जवान शामिल थे।

कहते है बीडीओ सह सीओ सारठ, साकेत कुमार सिन्हा :  मुखिया के अनुसंशा पर परमिट निर्गत किया जाता है, पंचायत स्तर के विकास से संबंधित विभिन्न योजनाएं जैसे प्रधानमंत्री आवास,14 वीं वित्त,15 वीं वित्त आदि योजनाओं के लिए पास निर्गत किया जाता है।

कहते है डीएमओ राजेश कुमार : ऐसा कोई नियम नही है कि बालू के लिए कोई लिखित में पास निर्गत कर सकता है और ऐसा कोई भी मामला अभी तक मेरे संज्ञान में भी नहीं आया है। अगर ऐसा है तो यह गलत है कोई भी बंदोबस्ती घाट से बालू का उठाव नहीं हो सकता है।

No comments