झारखंड के हेमंत सरकार ने जनता के साथ किया विश्वासघात



धनबाद: - हेमंत सोरेन सरकार के एक साल होने पर धनबाद भाजपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष ज्ञानरंजन सिन्हा ने एक पत्रकार वार्ता आयोजित कर हेमंत सरकार पर  जमकर हमला बोला । हरदेव राम स्मृति भवन में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में श्री सिन्हा ने कहा कि झारखंड की हेमंत सोरेन की सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल निराशा जनक रहा । सरकार सभी मोर्चे पर फेल साबित हुई है ।इस सरकार में जनता बदहाल ,मंत्री मालामाल ओर सभी विभागों में दलाल नजर आया है । किसानों,मजदूरों,प्रवासी मजदूरों, बेरोजगार युवाओं,महिलाओं को ठगने का काम इस सरकार ने की है। इस सरकार में महिलाओं का सर्वाधिक उत्पीड़न हुआ । बहु बेटियां असुरक्षित महसूस करती हैं। आये दिन ब्लात्कार की घटना घटती रहती है। राज्य की खनिज संपदाओं की लूट मची है । किसानों के ऋण माफी योजना भी त्रुटि पूर्ण है । वर्ष अठारह उन्नीस में जो किसान ऋण लिए है सिर्फ उनके ही ऋण माफी करने की योजना है । इससे पहले जिन कृषकों ने लोन लिया है उनके साथ धोखा की गयी है । पंचायत, नगरनिगम, नगरनिकाय की चुनाव को जान बूझ कर सरकार टाल रही हैं। अप्रत्यक्ष रूप से सरकार असफ़रो के माध्यम से गांव की सरकार पर अपना कब्जा करना चाहती हैं ।उग्रवादियों की गतिविधियों में इजाफा हुआ है । कानून व्यवस्था चौपट हैं ।बेरोजगारों को न रोजगार मिला न भत्ता। कोरोना काल मे बदहाल सरकारी ब्यवस्था रही ,सरकार धर्मांतरण को बढ़ावा दे रही हैं । सरकार राष्ट्रदोही ताकतों को संरक्षण  दे रही है। विकास कार्य ठप्प पड़ा हुआ है। सच्चर कमेटी को लागू नही करना,एक वर्ष हो जाने के बावजूद अभी तक अल्पसंख्यक आयोग, अल्पसंख्यक कल्याण बोर्ड, मदरसा बोर्ड एवं उर्दू अकादमी का गठन नही करना हेमंत सरकार के अल्पसंख्यक विरोधी होना दर्शाता है । श्री सिन्हा ने कहा कि हेमंत सरकार दलित एवं आदिवासी विरोधी है । आदिवासी ओर दलितों के उत्थान की सारी योजनाओं को इस सरकार ने बंद कर दिया है। अफसरों की ट्रांसफर पोस्टिंग एक उद्योग का रूप ले लिया है । थोक भाव में  अधिकारियों की तबादला हो रहा है ।  पत्रकार वार्ता में जिला मंत्री फिरोज दत्ता, मीडिया प्रभारी रतिरंजन गिरि, बिपिन दां, सांसद प्रतिनिधि बलराम साव, ओम प्रकाश बजाज, पंकज सिंह, अमरदीप सिंह,पप्पू विश्वकर्मा, अनूप साव आदि थे ।

No comments