कृषि मंत्री ने मजार पर चादरपोशी कर की राज्य की खुशहाली की कामना

 


सारठ : राज्य के कृषि मंत्री सह जरमुंडी विधायक बादल पत्रलेख ने रविवार देर शाम सारठ स्थित मखदूम बाबा के मजार पर पहुंचकर चादर पोशी की। मंत्री बनने के बाद पहली बार सारठ पहुंचे बादल पत्रलेख ने कहा कि मखदूम बाबा पर उनकी पूरी आस्था है। उन्होंने कहा कि मख्दूम बाबा से राज्य में अमन, चेन, शांति और किसानों की खुशहाली की कामना की। वहीं कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने मौजूदा कृषि बिल लाकर अपनी तानाशाही नीति का प्रदर्शन किया है। नतीजा किसान विरोधी कृषि बिल के विरोध में पूरे देश के किसान उग्र हो गए है। केंद्र सरकार ने देश के अन्नदाता किसान को भी अपने तानाशाही नीति से अशांत कर दिया है। वहीं कहा कि वो यूपीए गठबंधन की सरकार में किसानों के हालात को सुधारने के लिए ही ऋण माफी, कृषि नीति, कृषि निर्यात नीति आदि को प्रभावी ढंग से लागू किया किया। कहा कि राज्य की हेमंत सरकार अच्छा काम कर रही है और वर्ष 2021 में सरकार एक वर्ष का लेखा-जोखा जनता के समक्ष पेश करेगी। कृषि मंत्री न कहा कि सारठ विधानसभा की खुशहाली व जनता के सपनों को पूरा करने में वो हमेशा भरपूर सहयोग करेंगे। कहा कि यहाँ की जनता को उनसे काफी अपेक्षा है जिसे हर हाल में पूरा किया करेंगे। मौके पर विक्रम सिंह, छोटू सिंह, मुजफ्फर साह, मुख्तार शेख, मनोज ठाकुर समेत कई अन्य मौजूद थे।

No comments