किसान विरोधी तीनों काला कानून के खिलाफ किसान दिवस मनाया गया



कुंडहित (जामताड़ा )बुधवार को देर शाम को प्रखंड के अम्बा पंचायत के अंतर्गत सियारशोली गांव में किसान दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय किसान सभा के आह्वान पर  कुंडहित लोकल कमिटी के द्वारा किसान विरोधी तीन काला कानून के विरोध में  किसान दिवस मनाया गया.. जिसमें किसान विरोधी तीन काला कानून एवं बिजली संशोधन बिल 2020 के वापसी के लिए केंद्र सरकार के विरोध में विस्तार से चर्चा की गई. मौके पर झारखंड राज्य किसान सभा के जिला सदस्य सुकुमार बाउरी ने कहा देश में तीन काला कानून के विरोध देशव्यापी आंदोलन चल रहा है. जिसमें दिल्ली ,राजस्थान, हरियाणा, पंजाब के हाईवे में तीन काला कानून को वापस लेने के लिए हजारों हजारों किसान आंदोलन कर रहे हैं. इस मुहिम में अखिल भारतीय किसान सभा की और से पूर्ण समर्थन है। उन्होंने कहा कि तीनों काला कानून लागू होने पर आम जनता पर व्यापक असर पड़ेगा, महंगाई बढ़ेगी, करपोरेट एवं बड़े व्यापारी साहूकार और पूंजीपतियों को लूट का छूट मिल जाएगा, साथही छोटे किसानों को अपनी जमीनों से हाथ धोना पड़ेगा। केंद्र सरकार से किसानों के तीन काला कानून वापस लेने की मांग की गई. मौके पर गोलक डोम,बलराम बाउरी, कृष्णा बाउरी, पबित्र डोम,मान्ना बाउरी,पबित्र बाद्यकर, शांति डोम,अमित्य बाद्यकर,निर्मल डोम,मनोज बाउरी, गोष्ठ बिहारी डोम सहित अनेकों  उपस्थित थे


चंदन मंडल की रिपोर्ट। 


No comments