पंचायत समिति सदस्यों ने डीसी व डीडीसी को पत्र देकर योजनाओं के भुगतान पर रोक लगाने की मांग की


सारठ : प्रखंड प्रमुख व पंचायत समिति सदस्यों के बीच जारी गतिरोध खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को भी विभिन्न पंचायतों के नौ पंसस ने डीसी व डीडीसी से मिलकर प्रमुख के मनमानी के विरुद्ध शिकायत किया। कहा कि मनमाने ढंग से पारित योजना में जांच होने तक भुगतान नहीं किया जाय। सदस्यों का आरोप है कि 17 दिसम्बर को पंचायत समिति की बैठक में हस्ताक्षर कराने के बाद प्रमुख रंजना देवी एवं बीपीआरओ भाग्यधर पाल ने अपने मन से प्रस्ताव लिया था। वहीं आराजोरी पंचायत के पंसस छाया देवी ने बताया कि आराजोरी शेख टोला में 21 अक्टूबर को लगभग 200 फिट पीसीसी का निर्माण किया गया है। पीसीसी बनने के ढाई माह बाद मंगलवार को प्रमुख पति द्वारा उक्त स्थान पर 15 वें वित्त आयोग के तहत पीसीसी निर्माण का बोर्ड लगा दिया गया है और पूर्व की योजना में गलत भुगतान कराने के फिराक में है।

गोचर भूमि पर बना रहे जलमीनार को रोका : आराजोरी पंचायत के बरमरिया गांव में 15 वें वित्त आयोग के तहत बनाये जा रहे जलमीनार के काम को ग्राम प्रधान व ग्रामीणों ने रोक दिया। ग्राम प्रधान भरत भोक्ता ने इसकी लिखित शिकायत सीओ साकेत कुमार सिन्हा से की है। बताया कि निर्माण कार्य गोचर भूमि पर कराया जा रहा था।

No comments