कांधीहाड़ा कुंडहित प्रखंड के प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट



कुंडहित (जामताड़ा):प्रखंड के कांधीहाड़ा पिकनिक स्पॉट में प्रसिद्ध है।प्रखंड क्षेत्र के कंधीहाड़ा में बड़ी ही धूम -धाम से पिकनीक मनाई जाती है  , जो शीला नदी के तट पर है, ।यहाँ  अंग्रेजी नववर्ष पर पिकनिक मनाने के लिए सैलानियों को लुभा रही है कांधीहाड़ा पिकनिक स्पॉट। जहां प्राकृतिक संदौयॅ से हरा भरा पेड़ पौधा से सिमटी हुई वन जंगल जिसके नीचे पर बहती हुई कल कल रब से शीला नदी के पानी.  वही नदी के इर्द-गिर्द सफेद पत्थरों की चट्टान लोगों को आकर्षित करती है। सफ़ेद चट्टानों को  टकराते हुए कल कल रब से बहती हुई नदी का पानी सुंदरता को चार चांद लगा रही है। कांदीहाड़ा पिकनिक स्पॉट में पिकनिक मनाने के लिए दूरदराज से लोग यहां पहुंचते हैं. वही बगल के राज्य पश्चिम बंगाल से भी लोग पहुंचकर यहां पिकनिक कर वादियों का लुफ्त उठाते हैं। कोई-कोई जंगल के बीच में पिकनिक मनाते हैं तो कोई कोई शीला नदी के ऊपर सफ़ेद चट्टानों पर पिकनिक मनाते हैं। पहले जनवरी से 15 जनवरी  तक लोगों ने वनभोजन करने के लिये यहाँ पहुंचते हैं, खासकर अंग्रेजी नववर्ष पर काफी लोगों ने यहां पहुंच कर पिकनिक मनाते हैं। जहां लोग ने दिनभर डीजे के धुन पर थिरकते हुए नया साल का जश्न मनाते हैं। 

आज भी परंपरा को मानते हुए अगल बगल के गांव के लोग अपने परिवार के साथ बैलगाड़ी से सफर करके वन भोजन करने के लिए कांधी हाड़ा शीला नदी तट पर पहुंचते हैं ,जहां बूढ़े जवान बच्चे पूरे परिवार के साथ वनभोजन का लुफ्त उठाते हैं.

मकर संक्रांति के अवसर पर कांधीहाड़ा में मेले के आयोजन होता है। दूरदराज से लोग यहां आकर मकर स्नान भी करते हैं।

कांधीहाड़ा पिकनिक स्पॉट कुंडहित प्रखंड क्षेत्र के बनकटी पंचायत अंतर्गत खैरापाड़ा में स्थित है. जो प्रखंड मुख्यालय से मसानजोर डैम जाने वाली पक्की सड़क से 7 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। पक्की सड़क तो बनाई गई थी, लेकिन आज तक कोई सड़क से बस नहीं चली है जो भी लोग इस सड़क से आवागमन करते हैं वह दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों का इस्तेमाल करते हैं।

 जिला प्रशासन की अनदेखी

जिला प्रशासन की ओर से आज तक कांधीहाड़ा पिकनिक स्पॉट को विकसित करने के लिए आज तक कोई कदम नहीं उठाए हैं जिस कारण इस स्पॉट का विकास नहीं हो पाया है।अगर इसकी विकास किया जाए तो, इस वादियों को देखने के लिए सैलानियों की भीड़ रहेगी। 

पिकनिक स्पॉट को देखते हुए पुलिस प्रशासन का भी निगरानी रहती है।

No comments