नवार्ड संपोषित जीआरएलटीपी की ओर से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को दी गई क्षमतावर्धन प्रशिक्षण



नाला (जामताड़ा)--- पंजुनिया पंचायत सचिवालय में नवार्ड संपोषित जीआरएलटीपी के सौजन्य से स्वयं सहायता समूह की सदस्यों को क्षमतावर्धन /उन्मुखीकरण प्रशिक्षण दी गई। मालूम हो कि कृषि तथा गैर कृषि कार्य से जुड़ी स्वयं सहायता समूह के सदस्यों को "जलवायु परिवर्तन के परिपेक्ष में कृषि तथा गैर कृषि कार्य में रोजगार के अवसर" विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ डॉ० श्री देवेंद्र चरणदास द्वारी, संस्था के सचिव संजय कुमार , रंजीत राउत, मोहम्मद साबिर अंसारी आदि के द्वारा विधिवत रूप से दीप प्रज्वलित कर संयुक्त रूप से की गई। इस अवसर पर प्रशिक्षकों के द्वारा जलवायु परिवर्तन के परिपेक्ष में कृषि तथा गैर कृषि कार्य में रोजगार के अवसर विषय पर विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी गई। इस क्रम में समूह की सभी महिलाओं को एकजुट होकर ग्रुप संचालन करने का सुझाव दिया गया। इसके अलावे आत्मनिर्भर एवं स्वाबलंबी बनने के लिए विभिन्न आयामों की जानकारी दी गई। इस दौरान मास्टर ट्रेनर डॉ०देवेंद्र चरण द्वारी ने कहा कि जलवायु परिवर्तन आज के समय कई समस्याओं की जड़ है और समय में वर्षा और तापमान में परिवर्तन के कारण इसका विपरीत प्रभाव कृषि कार्य पर पड़ता है ,हमें इन बातों का ध्यान रखते हुए कृषि कार्य में पुरानी तथा नई पद्धति का समावेश करना होगा इसके अलावे नए आयामों की भी तलाश करनी होगी गैर कृषि कार्य में रोजगार के अवसर खोजने होंगे वही ट्रेनर श्री देवेंद्र चरण ने कृषि कार्य में जैविक खेती मिश्रित खेती कृषि बागवानी आदि बिंदुओं पर चर्चा की इसके अलावा बकरी पालन तथा मत्स्य पालन पर भी बारीकी से प्रकाश डाला गया।

No comments