कृषि बिल के विरोध में सर्वदलीय पार्टी की हुई बैठक



नाला (जामताड़ा)---केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन काला कानून के विरोध में सोमवार को नाला पीडब्ल्यूडी परिसर में सर्वदलीय पार्टी की बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष उज्जवल भट्टाचार्य ने की। इस अवसर पर सभी वामपंथी दलों के नेताओं ने केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि बिल विरोध में अपना अपना वक्तव्य दिए। वहीं 8 दिसंबर को भारत बंद के सफल क्रियान्वयन को लेकर कई रणनीतियां बनाई गई साथ ही क्षेत्र में प्रचार -प्रसार करने को लेकर विचार- विमर्श किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रखंड अध्यक्ष उज्ज्वल भट्टाचार्य ने कहा कि केंद्र सरकार जब तक यह तीन किसान विरोधी काला कानून को वापस नहीं लेते हैं तब तक संघर्ष जारी रहेगा। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव कन्हाई माल पहाड़िया ने कहा कि केंद्र सरकार किसान विरोधी कृषि बिल लाकर किसानों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है उन्होंने कहा कि भारत बंद को सफल करने के लिए सभी किसान भाई एकजुट होकर सड़क पर आवें। उन्होंने सभी किसान, मजदूर, दुकान, प्रतिष्ठान आदि के मालिक एवं व्यवसायियों को भी इस काला कानून के विरोध में और भारत बंद के समर्थन में सहयोग करने की अपील की। उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं को छोड़ सभी प्रकार की सेवाएं बंद रहेगी। आज के इस सर्वदलीय पार्टी के बैठक में झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष उज्ज्वल भट्टाचार्य, 44 परगना के धोना लाल हंसदा, बासुदेव हंसदा, राम हांसदा, डॉ० सपन गोरांय, प्रभाकर पाल, युद्धपति घोष, रहीम अंसारी, कांग्रेस पार्टी के जिला महासचिव समर माजी, प्रखंड अध्यक्ष गणेश चंद्र मित्रा, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव कन्हाई माल पहाड़िया, मृत्युंजय तिवारी, बबलू डोकानिया, राजद के पूर्व प्रदेश सचिव अशोक माजी सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

No comments