ईसाई धमार्वलंबियों का त्यौहार क्रिसमस सौहार्द एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया



मधुपुर 25 दिसंबर ईसाई धर्मावलंबियों का त्योहार क्रिसमस शुक्रवार को सुबह शहर के विभिन्न गिरजाघरों में कोविड-19 को देखते हुए सादगी के साथ मनाया वहीं शहर के सभी गिरजाघरों को दुल्हन की तरह सजाया गया था.इस अवसर पर सामूहिक प्रार्थना हुई.वही शहर के संत जोसेफ, संत कोलम्बस चर्च, सीएनआइ चर्च, पीएच मिशन चर्च, पीएच चर्च मिशन, कारमेल स्कूल चर्च सहित ग्रामीण क्षेत्रों में क्रिसमस की धूम मची रही।करीब दो घंटे तक चले प्रार्थना के दौरान प्रभु यीशु को याद कर लोगों की आंखें नम हो गयी.सबसे प्राचीन बेलपाड़ा मोहल्ला स्थित संत जोसेफ गिरजाघर के फादर ने कहा कि प्रभु यीशु का धरती पर अवतरण पाप से मुक्ति दिलाने के लिए हुआ था,जयंती भाईचारे, आपसी सौहार्द, मनुष्य का कल्याण तथा विश्व शांति का संदेश देता है।वहीं सीएनआइ चर्च  में फादर हारुन सिंह ने बाइबिल के संदेशों के आलोक में लोगों को क्षमा,दया, प्रेम भाव का संदेश दिया वही लोगों ने चर्च से प्रार्थना कर बाहर एक दूसरे को क्रिसमस की बधाई देते नजर आए।मौके पर चर्च के सचिव संजीव मंडल डॉक्टर मार्गरेट ,राजू मसीह, राहुल अंथोनी, मनोज, अजय कुमार ,सुनील मशीह,  लीना अंथोनी, सुप्रिया तिर्की, विजय सिंह समेत सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे!

No comments