ROB के निर्माण से बढ़ेगी देवघर जिला के विकास की गति



देवघर जिला अन्तर्गत चल रहे ROB निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा संबंधी एक बैठक का आयोजन उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में की गयी। बैठक में अपर समाहत्र्ता चन्द्र भूषण प्रसाद सिंह ने जानकारी दी कि देवघर जिला अन्तर्गत 03 ROB का निर्माण कार्य जारी है। इनमें देवघर शहरी क्षेत्र के सत्संग नगर अवस्थित, दूसरा जसीडीह-शंकरपुर सड़कमार्ग पर एवं तीसरा मधुपुर मंे निर्माणाधीन ROB है। उपायुक्त ने इनके निर्माण कार्य में आ रही बाधाओं के त्वरित निष्पादन करते हुए निर्माण कार्य को तीव्रगति से करने का निदेश दिया। उन्होंने आवश्यकतानुरूप विद्युत पोल शिफ्टिंग, अंडरग्राउंड केबलिंग को हटाना आदि कार्यों को शीघ्र पूरा करने का निदेश दिया। उन्होंने बैठक में रेलवे विभाग की ओर से कनीय अभियंता के उपस्थित होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि सक्षम प्राधिकार हीं बैठक में भाग लें, ताकि कार्य प्रगति की सही मायने में समीक्षा हो सके। उन्हांेने ROB निर्माण कार्य को तीव्र गति देने के लिए अनुमंडल पदाधिकारी को नोडल पदाधिकारी नामित करते हुए एक कमिटि गठन का निदेश अपर समाहर्ता को दिया। उन्होंने कहा कि कमिटि निश्चित समय अंतराल पर निरीक्षण करते हुए निर्माण कार्य में आ रहे व्यावधानों को चिन्ह्ति करेगी एवं सभी विभागों के बीच समन्वय स्थापित करते हुए निर्माण कार्य को गति प्रदान करेंगी। बैठक के क्रम मे उन्हेांने नगर निगम क्षेत्र अन्तर्गत अवैध कब्जे अथवा अवैध निर्माण कार्य को रोकने के लिए क्विक रिस्पाॅन्स टीम के गठन की बात कही। उन्हेांने इसके गठन के लिए अपर समाहर्ता को निदेशित करते हुए कहा कि इसमें राजस्व विभाग, पुलिस विभाग एवं नगर निगम के पदाधिकारी शामिल होंगे जो नगर निगम क्षेत्र अन्तर्गत पेट्रोलिंग करते हुए इस बात का पता लगायेंगे कि कहीं अवैध निर्माण कार्य या इनक्राॅचमेन्ट करने जैसी परिस्थिति तो नहीं है, ताकि जानकारी होने पर उसे तुरंत रोका जा सके। उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में सरकारी सम्पति का दुरूपयोग नहीं होना चाहिए। यह हम सभी का दायित्व है। बैठक में उपरोक्त के अलावे उप विकास आयुक्त  संजय सिन्हा, अपर समाहर्ता चन्द्र भूषण प्रसाद सिंह, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी  उमाशंकर प्रसाद, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, कार्यपालक अभियन्ता, विद्युत आपूर्ति प्रमंण्डल, कार्यपालक अभियंता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, देवघर, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, देवघर  विवेक किशोर, अंचलाधिकारी, देवघर  अनिल कुमार, नगर निगम के अधिकारी व अन्य उपस्थित थे।

No comments