प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के कार्यों की समीक्षा में उपायुक्त ने अधिकारियों को दिये आवश्यक दिशा-निर्देश



उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी  मंजूनाथ भजंत्री ने की अध्यक्षता में जिले में प्रधानमंत्री किसान सम्माननिधि योजना के तहत् निबंधित किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित करने को लेकर चल रहे कार्यों की समीक्षा बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार में किया गया। इस दौरान उपायुक्त द्वारा जिले के छोटे और सीमान्त कृषको के हित मे केन्द्र सम्पोषित प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किये गये कार्यों व पूर्व की बैठक में लिए गये निर्णयों की विस्तृत चर्चा करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया। 

इसके अलावा उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई कि वित्तीय वर्ष 2018-19 में 45,330 किसानों को, वित्तीय वर्ष 2019-20 में 23,667 किसानों को एवं वित्तीय वर्ष 2020-21 में 1,15,133 किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ दिया गया। इस तरह से अभी तक कुल 1,84,130 किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से आच्छादित किया जा चुका है, जिनका प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत निबंधन किया गया है सभी को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ दिया जाना है। 

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने जिला कृषि पदाधिकारी एवं अग्रणी बैंक प्रबंधक को निदेशित किया कि एक दूसरे के साथ आपसी समन्वय स्थापित कर जिले में कितने किसानों को अभी तक निबंधित किया गय है एवं किसानों को क्रेडिट कार्ड से आच्छादित किया गया है, उनकी सूची तैयार करते हुए शेष बचे निबंधित किसानों को क्रेडिट कार्ड से जोड़ने हेतु स्पेशल ड्राईव चलाते हुए 20.12.2020 तक सभी को किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ा जाय। साथ हीं उन्होंने जिला कृषि पदाधिकारी को निदेशित किया कि जितने भी किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित होने से बचे किसानों की सूची पंचायत स्तर पर तैयार करते हुए एटीएम/बीटीएम के माध्यम से आवेदन संख्या जारी करते हुए अग्रणी बैंक प्रबंधक को उपलब्ध कराया जाय, ताकि अग्रणी बैंक प्रबंधक विभिन्न बैंको के साथ समन्वय स्थापित करते हुए सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से जोड़ सकें। 

समीक्षा के क्रम में उपायुक्त संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि प्रखण्ड व पंचायत स्तर के सभी कर्मियों के साथ ऑनलाइन बैठक किया जाय, ताकि जमीनी स्तर पर कार्य की रूपरेखा से कर्मियों को अवगत कराया जा सके। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने कृषि पदाधिकारी को सख्त निदेशित किया कि गलत तरीके से किसान बनकर लाभ लेने वाले व्यक्तियों को चिन्ह्त करते हुए आवश्यक व कड़ी कार्रवाई करें, ताकि आगे से गलत तरीके से योजनाओं का लाभ लेने का प्रयास किसी के द्वारा न किया जाय। 

बैठक में उपरोक्त के अलावे उपविकास आयुक्त श्री संजय सिन्हा, अपर समाहर्ता श्री चन्द्रभूषण प्रसाद सिंह, प्रशिक्षु आई0ए0एस0 श्री संदीप मीणा, जिला कृषि पदाधिकरी श्री ओमप्रकाश चौधरी, उप परियोजना निदेशक श्री मंटू कुमार, अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री आर०पी०एम०सहाय, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित विभाग के पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।

No comments