कोविड-19 के संदर्भ में जारी दिशा-निर्देशों का पालन कर हीं हम इसके संक्रमण से बच सकते हैं-उपायुक्त



हमलोग विशेष परिस्थितियों से गुजर रहे हैं। कोविड-19 के प्रकोप के बादल अभी छटे नहीं है। हमें और भी सतर्क रहने की आवश्यकता है। आम नागरिकों से अपील है कि वे कोविड-19 से बचाव के संदर्भ में सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अक्षरशः पालन करें। उक्त बातें उपायुक्त  मंजूनाथ भजंत्री ने विधि-व्यवस्था, साइबर क्राइम आदि से संबंधित आहूत बैठक में कही।

उन्होंने कहा कि अभी कोविड-19 से बचाव के दवाई या वैक्सिन आने में देर है। इस बीच लापरवाही हमारे लिए घातक साबित हो सकता है। इससे बचने का एक ही उपाय है मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना, साफ-सफाई का पूरा ख्याल रखना, भीड़-भाड़ वाले स्थानों से बचना एवं अतिआवश्यक होने पर हीं घर से बाहर निकलना।

उन्होंने अधिकारियों को सघन चेकिंग अभियान चलाने का निदेश दिया। वैसे लोग जो बिना मास्क पहने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का बिना पालन किये बाजारों, चैक-चैराहों में घूमते दिखायी देते हैं, उनके विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत अर्थदंड लगाने का निदेश दिया। उन्होंने यह कार्य न केवल शहरी क्षेत्रों में बल्कि प्रखण्ड मुख्यालयों एवं अनुमंडल मुख्यालयों में भी सख्ती से लागू करने का निदेश दिया।

उपायुक्त ने नगर आयुक्त, देवघर को निदेशित करते हुए कहा कि वे इस बात को सुनिश्चित करें कि कोई भी दुकानदार बिना मास्क पहने एवं कोविड के अन्य निदेशों का पालन किये बगैर ग्राहकों को सामग्री न बेचें। ऐसे दुकानदारों के विरूद्ध दण्ड आरोपित करने का निदेश उन्होंने दिया। उन्होंने बाबा बैद्यनाथ मंदिर परिसर में दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मास्क अनिवार्य करने को लेकर निदेशित करते हुए कहा कि कोई भी श्रद्धालु बिना मास्क के मंदिर परिसर में प्रवेश न करें इसे सख्ती से लागू करने का निदेश उपायुक्त ने बाबा मंदिर प्रभारी को दिया। उन्होंने कहा कि यह न केवल श्रद्धालुओं के लिए बल्कि मंदिर के कर्मचारियों एवं वहाँ ड्यूटी पर लगाये गये दण्डाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों के लिए भी  आवश्यक है। 


*उन्होंने Suspect everyone & respect everyone के तर्ज पर कोरोना से लड़ने की बात कही। उन्होनंे कहा कि हमारे आस पास का कोई भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित हो सकता है। ऐसे में जब भी हम किसी से  मिलें, मास्क पहनकर ही मिलें एवं पूरे सम्मान के साथ कार्य को तुरंत निपटाते हुए अलग हो जाएँ। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि वर्ष 1918 में भी इस तरह की महामारी आयी थी, परन्तु आवश्यक सावधानी व मास्क पहनकर एवं अन्य उपायों को अपना कर ही उससे मानव समूह जीत पाया था। ऐसे में यदि हम ढृढ़ निश्चियी हो तो अवश्य हीं निजात पा लेंगे।

उन्होंने सभी थाना प्रभारी से अपने-अपने क्षेत्रों में कोविड-19 के संदर्भ में सरकार द्वारा जारी निर्देशों का अनुपालन कराने हेतु निदेशित किया। *साथ हीं उन्होंने विशेष रूप से हिदायत देते हुए कहा कि हमें जनता के प्रति अति संवेदनशील होकर कार्य करने की आवश्यकता है। हमारे कार्य से किसी भी प्रकार से आम जनता को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसका ध्यान रखें क्योंकि सरकार का अंतिम लक्ष्य जनकल्याण होता है।बैठक में उपस्थित पुलिस अधीक्षक  अश्विनी कुमार सिन्हा ने कहा कि जामताड़ा के बाद साइबर क्राईम में देवघर का दूसरा नाम है। यह हमारे लिए चिन्तनीय है परन्तु पुलिस की सतर्कता और चैकसी लगातार साइबर अपराधियों के कमर तोड़ रही है। अब तक हमने 200 से ज्यादा साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है। उनकी कमर टूट रही है और हमारा संकल्प है कि देवघर को साइबर अपराधमुक्त घोषित करके हीं दम लेंगे। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट और एम्स के निर्माण कार्य जोर-शोर से जारी है। इसमें विधि-व्यवस्था एवं सुरक्षा के कोई भी प्रश्न उत्पन्न नहीं होने दिये जाऐंगे। निर्माण कार्य में लगे लोगों को पूरी सुरक्षा मुहैया करायी जाएगी।

उन्होंने जिला अन्तर्गत कुछ थानों के लिए जमीन नहीं होने के कारण थाना का अपना भवन नहीं उपलब्ध रहने की बात उपायुक्त से कही, जिस पर उपायुक्त ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अपर समाहत्र्ता एवं संबंधित अंचलाधिकारियों को भूमि चिन्ह्ति करने का निदेश दिया। उन्हांेने कहा कि जिला के विभिन्न विभाग एवं उनके पदाधिकारी जिला के लिए संकलित रूप से एक यूनिट है। हमें बेहतर तालमेल के साथ आपसी समन्वय बनाकर कार्य करने की जरूरत है। ऐसा करने से हम न केवल विधि-व्यवस्था पर अपनी सुदृढ़ पकड़ बना पायेंगे बल्कि जिला को नयी बुलन्दियों पर ले जा पायेंगे।


बैठक में पुलिस अधीक्षक  अश्विनी कुमार सिन्हा, उप विकास आयुक्त  संजय सिन्हा, नगर आयुक्त  शैलेन्द्र कुमार लाल, अपर समाहत्र्ता  चन्द्र भूषण प्रसाद सिंह, सिविल सर्जन डाॅ0 विजय कुमार, प्रशिक्षु आईएएस संदीप मीणा, प्रशिक्षु आईपीएस श्री कपिल चैधरी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, देवघर,  विकास चन्द्र श्रीवास्तव, जिला परिवहन पदाधिकारी  फिलब्यूस बारला, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी  रवि कुमार, प्रभारी पदाधिकारी, गोपनीय शाखा  विशालदीप खलखो, प्रभारी पदाधिकारी  सामाजिक सुरक्षा कोषांग  परमेश्वर मुण्डा, जिला कल्याण पदाधिकारी सुश्री मीनाक्षी भगत, जिला खनन पदाधिकारी  राजेश कुमार व अन्य उपस्थित थे।

No comments