जिला परिवहन पदाधिकारी ने पेट्रोल पंप व निजी प्रदूषण जांच केंद्र (PUC) संचालकों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश



देवघर विभागीय निर्देश के आलोक में आज दिनांक 01.10.2020 को जिला परिवहन पदाधिकारी  फिल्ब्युस बारला की अध्यक्षता में जिला अंतर्गत सभी पेट्रोल पंप एवं निजी प्रदूषण जांच केंद्र (PUC) संचालकों के साथ बैठक का आयोजन परिवहन कार्यालय में किया गया। इस दौरान विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा करते हुए जिला परिवहन पदाधिकारी द्वारा जानकारी दी गई कि सितंबर माह में हुए दो बैठक एवं  25.09.2020 को कुछ पेट्रोल पंपों के औचक निरीक्षण के बाद स्पष्टीकरण दिया गया था। जिसका जवाब अधिकतर के द्वारा बैठक के पूर्व तक नहीं दिया गया, ऐसे में 24 घंटे के अंदर संबंधित संचालक अपना जवाब परिवहन कार्यालय को समर्पित करे। साथ ही सभी पेट्रोल पंप स्वामियों को पुनः स्मारित कराया गया कि P.U.C सेंटर पर प्रदूषण प्रमाण पत्र के लिए शुल्क चार्ट  आवश्यक रूप से लगाएं।

इसके अलावे सभी पेट्रोल पंप पर अवस्थित प्रदूषण जांच केंद्र के संचालकों को निर्देश दिया गया कि ऑनलाइन प्रदूषण जांच प्रमाण पत्र की प्रति जो निर्गत होगी उसे प्रतिदिन व्हाट्सएप में डालें। साथ ही सभी प्रदूषण जांच केंद्र संचालकों को बताया गया कि दुपहिया वाहन एवं चार पहिया वाहन का विस्तार में ब्यौरा देंगे की कितनी वाहनों का ऑनलाइन P.U.C. सर्टिफिकेट निर्गत किया गया है। वही प्रत्येक माह निर्गत पीयूसी सर्टिफिकेट से संबंधित विभागीय अंश राशि को प्रत्येक माह के अंतिम तिथि तक प्रतिवेदन मेल प्रत्येक माह निर्गत पीयूसी सर्टिफिकेट से संबंधित विभागीय अंश राशि को प्रत्येक माह के अंतिम तिथि तक प्रतिवेदन मेल या वाट्सएप्प  द्वारा भेजना सुनिश्चित करेंगे द्वारा भेजना सुनिश्चित करेंगे। सबसे महत्वपूर्ण किसी भी परिस्थिति में पीयूसी सर्टिफिकेट ऑफलाइन निर्गत नहीं करना है, अगर करते हुए जांच के दौरान पाए गए तो उनके पेट्रोल पंप का  निबंधन रद्द कर दिया जाएगा।

बैठक के दौरान जिला परिवहन पदाधिकारी द्वारा सभी को निर्देशित किया गया कि शुल्क चार्ट पर झारखंड सरकार द्वारा जारी नए लोगो के प्रयोग करने की बात कही। साथ ही उन्होंने सभी पेट्रोल पंप संचालकों को निर्देशित किया कि प्रति माह  2 बैठक का आयोजन होगा और सारे पेट्रोल पंप स्वामियों को उनके द्वारा जारी की गई P.U.C सर्टिफिकेट से संबंधित विवरण लाना अनिवार्य होगा। बैठक के पश्चात Sambhavi fuel Center का eGrass से संबंधित तकनीकी खराबी को जिला परिवहन कार्यालय के ऑपरेटर द्वारा ठीक कर पुनः सक्रिय किया गया।

इस अलावे बैठक के दौरान उपरोक्त के अलावा सड़क सुरक्षा PIU के रविश कुमार, निलेश कुमार एवं कंप्यूटर ऑपरेटर संजीत कुमार आदि उपस्थित रहे। 

No comments