अंधविश्वास को लेकर पत्नी का किया हत्या और पति को किया घायल



देवघर।  जसीडीह थाना क्षेत्र के आदिवासी बहुल बीचकोरा गांव बुधवार की  रात 9 बजे के आसपास हृदय विदारक घटना घटी। जिसमें हथियार बंद दो अपराधियों ने गांव के सुकला मरांड़ी 60 के घर धावा बोलकर घर में सो रही उनकी पत्नी बड़की मरांड़ी 55 की हत्या चाकू घोपकर कर दी और अपराधियों ने सुकला मरांड़ी के गरद पर वार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल पति सुकला मरांड़ी का इलाज पुलिस संरक्षण में सदर अस्पताल में किया जा रहा है। जसीडीह पुलिस घटना की जांच कर रही है। फिलहाल इलाज सुकला मरांड़ी अपराधियों की व चाकू से हमला करने की बात तो कहते हैं लेकिन उन्हें पहचानने से इंकार कर रहे हैं। रात भर पत्नी के शव के पास विलाप करने के बाद सुकला मरांड़ी ग्रामीणों के सहयोग से शव के साथ जसीडीह थाना पहुंचे और पुलिस के साथ सदर अस्पताल पहुंच कर पत्नी के शव का पोस्टमार्टम व अपना इलाज कराया।

डायन मामले को ले पूर्व में दो ग्रामीणों के साथ हुआ था विवाद

सदर अस्पताल में इलाजरत मृतका बड़की मरांडी के पति शुक्ला मरांडी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि बीते रात घर में हम पत्नी व दो बच्चे खाना खाकर सोए हुए थे। हम खटिया पर व पति व बच्चे जमीन पर सोए हुए थे की रात 9 बजे के आसपास छूरा से लैस दो युवक पत्नी की हत्या व मुझे घायल कर दिया। उन्होंने कहा कि पूर्व गांव के छोटे लाल मरांडी व टिंकू मरांडी के साथ पत्नी को डायन कहे जाने व प्रताड़ित किए जाने को लेकर विवाद हुआ था। जिसको लेकर दो माह पूर्व कोयरीडीह के अर्जुन राय व रवि कुमार की उपस्थिति में मामले को लेकर पंचायती हुई। जिसमें दोनों पक्षों में आपस में एक दूसरे से बातचीत नहीं किए जाने का फैसला हुआ था। फिलहाल दोनों पक्षों के बीच बातचीत बंद है। उन्होंने कहा कि घटना में वे लोग शामिल हो सकते हैं इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है।

No comments