उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी ने जिला कोषागार कार्यालय व स्ट्राँग रूम का किया निरीक्षण



देवघर मंगलवार को उपायुक्त-सह-जिला दण्डाधिकारी कमलेश्वर प्रसाद सिंह द्वारा जिला कोषागार का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने जिला कोषागार कार्यालय द्वारा किये जा रहे कार्यों एवं अभिलेखों के संधारण की गहन समीक्षा करते हुए स्थापना से जुड़े रोकड़ पंजी, पेंशन भुगतान, पीएलए खाता, विपत्र भुगतान, आवंटन पंजी आदि से संबंधित विभिन्न दस्तावेजों की जांच कर अद्यतन स्थिति से अवगत हुए।

इसके अलावे उपायुक्त द्वारा नॉन जुडिशियल रजिस्टर कोर्ट फी, स्टांप रजिस्टर, एडवोकेट्स वेलफेयर फंड स्टांप रजिस्टर, चेक पंजी, आरडीएस डिवीजन आवंटन व्यय पंजी, गैर न्यायिक मुद्रक पंजी, न्यायिक मुद्रक पंजी, कोषागार स्थापना रोकड़ बही आदि बही-खातों का भौतिक निरीक्षण कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया। निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त ने कोषागार पदाधिकारी को समय-समय पर पेंशनरों की भुगतान हेतु जीवन प्रमाण पत्र का निरीक्षण करने की बात कही, ताकि आगे कोई परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

वही मौके पर उपस्थित उप कोषागार पदाधिकारी ने पीएल अकाउंट के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। साथ ही कोषागार पदाधिकारी ने बताया कि कोषागार से संबंधित सभी कार्यों को पूर्ण रूप से अप टू डेट रखा गया है।

इसके अलावा उपायुक्त  कमलेश्वर प्रसाद सिंह द्वारा जिला कोषागार स्ट्राँग रूम का निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया। इस दौरान उन्होंने स्ट्राँग रूम के जीर्णोद्धार को लेकर कोषागार पदाधिकारी को निदेशित किया कि संबंधित विभाग को पत्राचार करते हुए भवन की स्थिति व मरम्मतिकरण की आवश्यकता से अवगत कराएँ।इस दौरान उपरोक्त के अलावेजिला लेखा पदाधिकारी एम.के. झा, प्रभारी पदाधिकारी गोपनीय शाखा,  विशालदीप खलखो, उप कोषागार पदाधिकारी ध्रुवनारायण राय, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।

No comments