रेलवे स्टेशन से कुछ मीटर की दूरी परअवैध खदान के ब्लास्टिंग की वजह से कभी भी गिर सकता है हुलस डंगाल का लेंम्पस गोदाम



दुमका  शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के पकदाहा हुलस डंगाल मैं बना लेंम्पस गोदाम इन दिनों चिंता का विषय बना हुआ है। पत्थर माफियाओं द्वारा बनाया गया रेलवे लाइन और लेंम्पस गोदाम से मात्र 20 मीटर की दूरी पर विशाल अवैध पत्थर खदान है।इस खदान के ब्लास्टिंग की वजह से लेंम्पस गोदाम अब हिलने लगा है ।जो बड़ी घटना होने का संकेत दे रहा है।रेलवे ट्रेक से कुछ ही मीटर की दूरी पर इस खदान के ब्लास्टिंग का पत्थर सीधा स्टेसन तक पहुंच जाता है।और इसी रास्ते पर से लोगों का आना जाना लगा हुआ रहता है।अगर जल्द से जल्द इस अवैध पत्थर खदान को नही रोका गया तो बड़ी घटना होने से कोई भी नही रोक सकता।शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र से मात्र 10 किलोमीटर की दूरी पर इस अवैध पत्थर खदान पर सबकी नजर टिकी हुई है।इस अवैध खदान के संचालक पर पूर्व से ही शिकारीपाड़ा थाना में केस दर्ज है।और जेल भी जा चुके हैं।लेकिन अब इन अवैध पत्थर खदानों पर बंगाल के माफियाओं का राज़ चलता है। वर्तमान में इस खदान को पलास सेख नाम का पत्थर माफिया चला रहे हैं नियम कानून की धज्जियां उड़ाते हुए बेखौफ जुटे हुए है ।हालांकि इसकी जानकारी प्रखंड से लेकर जिला के सभी अधिकारियों को प्राप्त है।पर कोई कारवाई नही हो रही है।इससे साफ पता चलता है कि सारा खेल विभाग की मिलीभगत से खेला जा रहा है

No comments