उप विकास आयुक्त ने देवीपुर प्रखंड का किया औचक निरीक्षण



उप विकास आयुक्त संजय सिन्हा द्वारा देवीपुर प्रखण्ड कार्यालय एवं बाल विकास परियोजना पदाधिकारी कार्यालय का निरीक्षण कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने देवीपुर प्रखण्ड कार्यालय में विभिन्न विकास योजनाओं यथा मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, 14 वीं वित्त आयोग के अलावा विभिन्न योजना की समीक्षा करते हुए विभागीय निर्देश के अनुरूप कार्य करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया। इस दौरान लेखा सहायक के अनुपस्थित रहने के कारण प्रखण्ड कार्यालय की रोकड पंजी आदि की जाँच नहीं की जा सकी। ऐसे में प्रखण्ड विकास पदाधिकारी , देवीपुर को निदेशित किया गया कि दिनांक 21.10.2020 को पूर्वाहन 10:00 बजे विकास भवन स्थित विकास शाखा में रोकड़ पजी जाँच करना सुनिश्चित करेंगे।

इसके अलावे बाल विकास परियोजना कार्यालय , देवीपुर के रोकड़ पजी अद्यतन नहीं रहने पर उप विकास आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया गया कि दो दिनों के अन्दर रोकड पंजी एवं अन्य सहायक रोकड़ पंजी को अद्यतन करते हुए अनुपालन प्रतिवेदन भेजना सुनिश्चित करें। वही  देवीपुर प्रखंड अंतर्गत टटकियों नवाडीह पंचायत कार्यालय का निरीक्षण करते हुए साफ - सफाई और अव्यवस्था को देखकर उप विकास आयुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए पंचायत सचिव एवं ग्राम रोजगार सेवक को निदेशित किया  कि नियमित रुप से साफ - सफाई के साथ कार्यालय की व्यवस्था दुरुस्त रखें।

निरीक्षण के क्रम में उप विकास आयुक्त ने पंचायत स्तर पर रोकड़ पंजी, भण्डार पंजी एवं अन्य पंजियों के अद्यतन नहीं पाया गया। साथ ही अभिलेखों के निरीक्षण में कई प्रकार की त्रुटियों पाई गई। जिसको गंभीरता से लेते उन्होंने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी , देवीपुर को स्पष्ट शब्दों में निर्देशित किया की नियमित रूप से पंचायत कार्यालय का निरीक्षण नही करने के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है।

इसके अलावे उप विकास आयुक्त द्वारा देवीपुर प्रखण्ड कार्यालय में विभिन्न विकास योजनाओं यथा मनरेगा योजना के तहत सूचना पट्ट एवं कार्य स्थल पर आवश्यक सुविधा जैसे, मेडिकल किट, पीने का पानी, आदि नही मिलने पर संबंधित कर्मियों को चेतावनी के साथ निर्देश दिया गया कि अवलिम्ब सभी कार्यों सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। पीसीबी योजनाओं में गुणवत्ता के कमी को देखते हुए संबंधित कनीय अभियंता को सख्त शब्दों में निर्देशित किया कि कार्य की गुणवत्ता को सुधार करें अन्यथा संबंधित से वसूली की जाएगी। साथ ही टटकियों पंचायत अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं जैसे : - मनरेगा के अन्तर्गत TCB निर्माण, बिरसा हरित ग्राम, डोभा निर्माण, Loose Boulder Structure तथा 14 वें वित्त आयोग मद से निर्मित सोलर जलापूर्ति, पेर्वस पथ निर्माण आदि का निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। साथ ही प्रखण्ड स्तरीय सभी पदाधिकारियों को कड़ी चेतावनी के साथ उप विकास ने निर्देशित किया कि नियमित रूप से योजनाओं का निरीक्षण करना सुनिश्चित करें, ताकि  योजना की गुणवत्ता और कार्यों में कमी पाये जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सके ।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे परियोजना पदाधिकारी श्री विश्वभर पटेल , प्रखण्ड विकास पदाधिकारी , देवीपुर एवं संबंधित अधिकारी कर्मी आदि उपस्थित थे ।

No comments