पुर्व सांसद फुरकान अंसारी ने कोविड-19 को दिया मात हॉस्पिटल से हुए डिस्चार्ज,कृषि मंत्री बादल पत्रलेख व इरफान अंसारी पहुंचे अस्पताल



मधुपुर 16 अक्टूबर कांग्रेस के कद्दावर  नेता पूर्व सांसद फुरकान अंसारी आज कोविड-19 को मात देकर रांची के आलम हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हो गए। मौके पर उनके साथ झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख विधायक डॉक्टर इरफान अंसारी, डॉक्टर मजीद आलम, डॉक्टर तनवीर आलम, एवं उनका इलाज कर रहे रांची के जाने माने स्पेशलिस्ट डॉ मनमोहन सिंह उपस्थित थे।मौके पर कृषि मंत्री ने कहा की फुरकान अंसारी साहब मेरे अभिभावक एवं राजनीतिक गुरु रहे हैं। जब मुझे पता चला कि वह कोरोना से संक्रमित है तो मैं उनसे मिलने उनके मधुपुर आवास भी मिलने गया था और उसके बाद फिर रांची के आलम अस्पताल में भर्ती होने के बाद भी उनसे मिला। मेरा इस घर से परिवारिक लगाव रहा है इसलिए अभी 2 दिन पूर्व मैंने अपना जन्मदिन का केक भी अस्पताल में कांटा।फुरकान अंसारी साहब के सलामती का खबर लेने पूरे देश से मेरे पास फोन आ रहे थे। फुरकान साहब ना सिर्फ झारखंड बल्कि पूरे देश के जाने-माने शख्सियत हैं। आगे मंत्री जी ने कहा की आलम अस्पताल का माहौल एक परिवार जैसा है और यहां कि डॉक्टर ने बहुत ही अच्छे ढंग से इलाज कर कोरोना को मात दे डाला। मैं पूरे आलम अस्पताल प्रबंधन को धन्यवाद देना चाहता हूं।मौके पर पूर्व सांसद फुरकान अंसारी साहब ने पूरे अस्पताल प्रबंधन को धन्यवाद दिया और कहा की कोरोना के डरने की जरूरत नहीं बल्कि कोरोनावायरस से लड़ने की जरूरत है। मेरा मानना है की कोविड का इलाज रांची के आलम में ही संभव है और आपको बाहर जाने की जरूरत नहीं है। मैं अपने सभी चाहने वालों को भी धन्यवाद देना चाहूंगा। जो मेरे लिए दुआ और हवन कर रहे थे।मौके पर विधायक इरफान अंसारी ने कहा कि आज अपने पिता को दोबारा दुरुस्त देखकर काफी खुशी हो रही है। फुरकान अंसारी साहब एक लड़ाकू और महान शख्सियत हैं और यही कारण है कि पूरे देश से इनकी सलामती की दुआ की जा रही थी। अब यह पूरी तरह से फिट है और बहुत जल्द बिहार विधान सभा चुनाव में भाजपा को मात देने के लिए पहुंच रहे हैं!

No comments