सड़क हुआ तालाब में तब्दील , लोग चलने को मजबूर



उधवा संवाददाता :--उधवा प्रखंड क्षेत्र दक्षिण पालशगाछी के गाँव निमय टोला,मोंगलु मांझी टोला,घासी टोला,मोहब्बत टोला आदि गाँवो को एक-दूसरे से जोड़ने वाले सड़क इन दिनों बून्द-बून्द आंसू बहा रहे हैं।जिसकी फिक्र न तो पंचायती मूखिया कर रहे हैं और न ही जनप्रतिनिधि व इससे संबंधित अधिकारी।सड़क की स्थिति इतनी खराब हो गई कि सड़क से होकर लोग पैदल भी नही चल पा रहे हैं।और इन्ही गाँव में से कुछ गाँव में प्रवेश करने के लिए किसी भी वाहन चालकों को कही दूर-दुरंत पर वाहन को खड़ा कर पैर की चप्पलें हाथ में उठाकर लंबे दूरी तय करने को मजबूर हो जाते हैं।ग्रामीण दिलदार शेख ,वसीम शेख आदि से मिली जानकारी के अनुसार एक हैरानी कर देने वाली बात सामने आई हैं की यह गाँव में कोई अपने बेटा व बेटी की (ब्याह) नहीं कराना चाहते हैं । आखिर क्या क़सूर हैं इन गरीब मजदूर वर्ग के

 लोगों का जो कई दशकों से इस तरह की सड़क पर चलने को मजबूर हैं।जनप्रतिनिधियों के दरवाजे खटखटाते थक गए किसके दर-बदर भटके जो इन लोगों को सड़क संबंधित समस्याओं से निजात मिल सके ? इस तरह की हालातों से ग्रामीणों कई दशक अपने जीवन की खो दिए है और कबतक यही हालत आगे तक रहेगा ये भी कहना मुश्किल है । क्योंकि प्रशासन व जनप्रतिनिधियों मौन धारण कर बैठे हुए हैं । सड़क की स्थिति देखकर ये साफ-साफ झलकता है की लोंगो को हो रही पेशानी और जनप्रतिनिधियों की मनमानी कही एक दूसरे से कम नहीं है ।


क्या कहते हैं पंचायती मूखिया : तीन साल पहले सड़क की मिट्टी मरम्मत की गई थी बाढ़ के चलते सड़क की हालत खराब हो गई हैं। लेकिन सड़क निर्माण कार्य बहुत जल्द शुरू कर दिया जाएगा ।

No comments