होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स बनी कोरोना से जंग में सामने आने वाली पहली संस्था





-सिविल सर्जन ने की संस्था के कार्य की सराहना, जताया आभार

साहिबगंज: वैश्विक कोरोना काल में सेवा भाव की ढेरों मिसालें सामने आईं। इसमें सबने सामर्थ्य के मुताबिक बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। लेकिन कोरोना योद्धाओं के बचाव के लिए कुछ करने की सोंच को कोई मूर्त रूप प्रदान नहीं कर पाया। ऐसे में राष्ट्रीय स्तर पर कैंसर मरीज़ों की सेवा कर रही संस्था होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स ने साहिबगंज में आगे बढ़ कर इस महामारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। संस्था ने इस दौरान हज़ारों लोगों को राशन मुहैया कराया। वहीं कोरोना योद्धा के रूप में काम कर रहे चिकित्सकों व स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों के लिए संस्था ने बुधवार को सिविल सर्जन डॉ डीएन सिंह को 50 पीस पीपीई किट, 100 पीस एन-95 मास्क व 10 पीस ऑक्सी मीटर सौंपा। सिविल सर्जन डॉ डीएन सिंह ने होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स संस्था के इस नेक कार्य की सराहना करते हुए संस्था की मैनेजिंग ट्रस्टी सीमा सिंह व कर्मियों का आभार जताया। उन्होंने कहा कि होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स संस्था पहली ऐसी संस्था है जिसने स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों व कर्मियों की सुरक्षा के लिए हाथ बढ़ाया है। मौके पर संस्था कर्मी विजय झा व गोपाल कुमार, स्वास्थ्य विभाग के डीपीसी आरिफ हैदर, कर्मी अश्विनी कुमार, अनिल ठाकुर व अन्य मौजूद थे।  
-------------------
चिकित्सकों व कर्मियों को सुरक्षित रखना ज़रूरी: सीमा 

होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स संस्था की मैनेजिंग ट्रस्टी सीमा सिंह ने बताया कि कोरोना से वीर योद्धा की तरह जंग लड़ रहे चिकित्सक व स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों की सुरक्षा सबसे ज़रुरी है। इनकी सुरक्षा से हम सब सुरक्षित राह सकते हैं। उन्होंने कहा कि अपनी जान हथेली पर रख कर दूसरों की ज़िंदगी बचा रहे चिकित्सक व कर्मी के लिए कुछ भी समर्पित करना काम होगा। उन्होंने संकट की इस घड़ी में सेवा की ऐसी मिसाल पेश की है जिसे रहती दुनिया तक याद किया जाएगा।

No comments