मानदेय मांग को लेकर सहिया संघ की हुई बैठक



नाला (जामताड़ा) -- नाला इंटर कॉलेज परिसर में रविवार को मानदेय मांग को लेकर सहिया संघ की बैठक हुई । बैठक की अध्यक्षता मिताली मंडल ने की । इस दौरान उन्होंने कहा कि हमलोगों को मानदेय नहीं दिया जाता है । हमलोगों को पोषाहार राशि दिया जाता है । वो भी किसी महीना ₹2000 , किसी महीना 1500 ,किसी महीना 1800 रुपया  दिया जाता है । उन्होंने कहा कि 10 काम के बदले हमें पोषाहार राशि दिया जाता है। उन्होंने कहा कि गांव की जिम्मेदारी हम ही लोगों के ऊपर है । जो महिला शादी करके आती है फिर जब वह गर्भवती होती है उस समय से लेकर बच्चा जन्म होने तक बच्चा का 18 साल तक हम लोगों को देखना पड़ता है । जब बच्चा जन्म होने वाला रहता है तब हम लोगों को ले जाना पड़ता है अस्पताल।  इसके बाद जब बच्चा घर में आता है तब उसे भी देखना पड़ता है 42 दिन तक । फिर हम लोगों को 3 महीना , 6 महीना , 9 महीना , 12 महीना तक माता एवं बच्चे का देखभाल करना पड़ता है। टीकाकरण देना, कृमि की दवाई खिलाना , विटामिन देना सभी काम की जिम्मेदारी हम लोगों के ऊपर ही है । कोरोना महामारी में भी हम लोगों को 5 बार सर्वे करने के लिए दिया गया था लेकिन हम लोग घर-  घर जाकर धूप में , बारिश में काम किए हैं  । इसके बावजूद भी सरकार का हम लोगों के प्रति सहानुभूति नहीं है । उन्होंने अगली रणनीति के बारे में बताते हुए कहा कि विधानसभा अध्यक्ष तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी को इसके लिए मांग पत्र सौंपा जाएगा । इस अवसर पर सहिया अल्पना राय,  पुतुल राय , श्यामली घोष,  पवित्रा राय , कल्याणी राय , आरोती राय , बनलता मंडल , ममनी राय, छेपू मंडल , अर्चना बाउरी , ललिता भंडारी , चित्रा पाल ,  कल्पना गोरांई , आशालता घोष , कल्याणी चार , मेरूण  बिबी , बिबी टुडू , बसंती हेंब्रम आदि मौजूद थे

No comments