दुर्घटनाओं को न्योता दे रहा है नाशघाट पुल


ब्यूरो रिपोर्ट।उधवा/साहिबगंज : प्रखंड मुख्यालय से लगभग 7 की० मि० दूर दक्षिण पूर्व में अवस्थित नाशघाट की जर्जर पुल आये दिन दुर्घटना को आमंत्रण दे रहा है , जिसकी ओर अबतक किसी भी इससे संबंधित अधिकारी व कर्मचारी की नजर नहीं पड़ी हैं । यह पुल दियारा क्षेत्र के हजारों लोगों को प्रखंड मुख्यालय से जोड़ते हैं । हर-रोज हजारों लोग इस पुल से होकर यातयात करते हैं ।इस पुल के पूर्व की ओर अंतिम चरण में एक जोड़ हैं, जो धीरे-धीरे गहरा और फटते जा रहे हैं। जिसमे कभी-भी किसी के साथ दुर्घटना होने से कतई इन्कार नहीं किया जा सकता हैं । इस पुल के अगल-बगल में अवस्थित दुकानदार जनमोहम्मद शेख , रोबिउल सेख , अबु ताहिर , अस्माउल शेख आदि का कहना है कि यह पुल लगभग वर्षो से खराब है पुल में जगह-जगह सरिया बाहर निकल पड़े हैं  साथ ही जोड़ भी दिन व दिन जानलेवा होते जा रहे हैं ,जिसमे हर-रोज हम लोगों को कोई न कोई घटना देखने को मिल रहा है । इससे होकर आर-पार होने वाले राहगीरों को हल्की फुल्की चोटें हमेशा लगती रहती हैं साथ ही उनका ये भी कहना है कि इसी तरह हल्की-फुल्की चोटें लगते कही एक दिन बड़ा हादसा होने से कोई नहीं रोक सकता हैं । फ़िलहाल इन दिनों पुल की अवस्था काफी दयदिनीय हैं जो पुल के ऊपर बीच-बीच में ढलाई उखाड़कर खरंजकरण की हालत हैं । साथ ही फाटे हुए जोड़ इन दिनों इतना गंभीर हो गया है कि , जरा सा भी सतर्कता हटी तो दुर्घटना घटी की अवस्था बनी हुई हैं । इसलिए इससे जुड़े अधिकारी,पदाधिकारी व कर्मचारियों को इसकी ओर ध्यान देते हुए पुल की जर्जरता साथ ही फाटे हुए फांक भागों को सुव्यवस्थित कर दिया जाना चाहिए, ताकि आने वाले समय मे कोई  भी बड़े हादसे का शिकार न हो ।



No comments