पारित कृषि व श्रमिक बिल के विरोध में चरणबद्ध आंदोलन होगा, प्रभाकर तिर्की



साहिबगंज संवाददाता : कृषि बील व श्रमिक बिल के सांसद में पास कराए जाने को लेकर जिला कांग्रेस की ओर से शनिवार को शहर के अभिनव श्री होटल में प्रेस वार्ता आयोजित की गई। जिस प्रेस वार्ता का आयोजन कांग्रेस जिला अध्यक्ष अनुकूल चन्द्र मिश्रा की अध्यक्षता में किया गया. जिसके मुख्य अतिथि कांग्रेस प्रदेश मिडिया प्रभारी प्रभाकर तिर्की थे. वही प्रेस को संबोधित करते हुए प्रभाकर तिर्की ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते  हुए कहा कि बीजेपी की एनडीए सरकार ने लोकसभा व राजसभा में योजना के तहत 17 से 20 सितम्बर के अंतराल में तीन बील पास करवा लिया. जिसमे कृषि बिल व श्रमिक बिल को पास कराया गया है. दोनों ही बिल 62 करोड़ श्रमिक व किसानो के लिए काला कानून है. कृषि बिल व श्रमिक बिल पूंजीपतियो और चन्द लोगो को फायदा पहुँचाने के लिए पारित किया गया है. किसान और श्रमिको को योजना के तहत केंद्र सरकार गुलाम बनाना का कार्य किया है ये दोनों बिल को बिना चर्चा का पास करवा कर. कृषि बिल पूरी तरह से किसानो के लिए काला कानून है, जो किसान अभी अपना जमीन का मालिक है, उसे पूंजीपति आकर अपना गुलाम बनाकर किसानो से खेती कराएंगे और फसल बढ़िया होने पर ही लेंगे. किसानो के साथ केंद्र सरकार अनदेखी कर रही है. जिसे कांग्रेस बर्दाशत नही करेगी. श्री तिर्की ने कहा कि कृषि बिल लाकर किसानो को पूंजीपतियो के हाथो गुलाम कराने का कार्य केंद्र की मोदी सरकार ने किया है. पूंजीपति मनमानी तरीका से किसानो के फसल का दर करेगा. अनाज मण्डी पूरी तरह से समाप्त हो जाएगा. किसानो का फसल का दर क्वालिटी के आधार पर निर्धारित करेगा पूंजीपति. फसल लगाने से पहले पूंजीपति किसानो से एकरारनामा करेगा और फिर पूंजीपति किसानो को बिज खाद इत्यादि देकर खेती कराएगा. श्री तिर्की ने कहा कि किसान और खेती को भी केंद्र की मोदी सरकार ने निजीकरण कर दिया. पहले रेल उसके बाद किसान और श्रमिक को निजीकरण किया गया. वही कांग्रेस जिलाध्यक्ष अनुकूल चन्द्र मिश्रा ने भी केंद्र की एनडीए वाली मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी सड़क से लेकर सदन तक इस बिल का जवाब देगी, किसान और श्रमिको के साथ अनदेखी बर्दाश्त नही करेगी कांग्रेस पार्टी. पूंजीपतियो को बढ़ावा देने के लिए केंद्र की मोदी सरकार किसी भी हद तक जा सकती है. वही मिश्रा ने बताया कि 28 सितम्बर को राज्यव्यापी राजभवन समक्ष प्रदर्शन होगा, 2 अक्टूबर को जिला स्तर पर प्रदर्शन, उसके बाद गाँव गाँव जाकर हस्ताक्षर अभियान चलेगा, जिसमे किसानो श्रमिको आम जनता का हस्ताक्षर होकर राष्ट्रपति को भेजा जाएगा. उसके बाद अनवज्ञ आंदोलन होगा.मौके पर प्रदेश डेलिगेट मुर्शाद अली, जिला सोशल मिडिया कोऑर्डीनेटर सन्तोष स्वर्णकार, नगर अध्यक्ष महेन्द्र पासवान, युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष एकलाख नदिम, अनुसूचित जाति विभाग जिला अध्यक्ष राहुल पासवान, महिला कॉंग्रेस प्रदेश सचिव पूनम किरण चौरसिया, रंजीत सिंह, छोटो हाँसदा, दिलिप गुप्ता, नित्यानंद गुप्ता सहित अन्य मौजूद थे.


No comments