कृषि विधेयक निरस्त करने की मांग को लेकर झामुमो ने दिया धरना



साहिबगंज संवाददाता:-- समाहरणालय के समीप मंगलवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा ने केंद्र सरकार के कृषि विधेयक के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। जिसकी अध्यक्षता जिला अध्यक्ष मोहम्मद शाहजहां अंसारी ने किया .वही बोरियो विधायक लोबिन हेंब्रम मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए धरना प्रदर्शन के उपरांत एक शिष्टमंडल ने उपायुक्त से बैठकर उन्हें राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन सौंपा।साथ ही धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए बोरियो विधायक लोबिन हेम्ब्रम ने भाजपा विरोधी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा पारित काला कानून किसान विधेयक बिल देश के गरीब किसान-मजदूर एव आम जनो के खिलाफ षड़यंत्र रच रही है जो कि सरासर गलत है।किसान विधेयक बिल पारित होने से इसका सीधे फायदा पूजीपँतियों एव बड़े-बड़े उधोगपति को मिलना तय है।भाजपा विरोधी सरकार मे काला बजारी करने की खुली छूट दी गई है।अनाज सब्जी-मंडी को खत्म करने से कृषि उपज खरीद व्यवस्था पूरी तरह नष्ट हो जाएगी।ऐसे मे किसानों को ना तो न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा और न ही बाजार भाव के अनुसार फसल की कीमत।वही किसान की फसल को दलाल औने-पौने दामो पर खरीद कर दुसरे प्रातो की मंडियों मे मुनाफा कमाने के लिए उचे दामों मे बेच देते है।अगर पूरे देश की कृषि उपज मंडी व्यवस्था ही खत्म हो गई तो इसका सबसे बड़ा नुकसान किसान-एव मजदूर को होगा।केन्द्र सरकार के नए काले कानून के माध्यम से किसान को ठेका प्रथा मे फसाकर भाजपा विरोधी सरकार देश के किसान, मजदूर एव आम जनो की केन्द्र सरकार द्वारा आवाज दबाने वाले कानून को तत्काल निरस्त किया जाए।धरना कार्यक्रम में पार्टी के कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।मौके पर सुरेश टुडू, संजीव सामू हेम्ब्रम, अब्दुल जब्बार अंसारी, सुरेंद्र यादव, केताबुद्दीन शेख, दिलावर रहमान, अरुण सिंह, मोहसिन परवेज़, कपिल देव दास, शकील अहमद,सलीम अंसारी, सफाजुद्दीन, मोज़म्मिल हक़ सहित दर्जनों मौजूद थे।


No comments