विभिन्न मांगों को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने प्रखंड मुख्यालय के समक्ष दिया धरना

संवाददाता ,नाला (जामताड़ा)---किसान दिवस के अवसर पर किसान सभा की ओर से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने प्रखंड मुख्यालय के समक्ष अपने विभिन्न मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया ।कार्यक्रम का नेतृत्व जिला सचिव कन्हाई माल पहाड़िया ने की इस दौरान उन्होंने केंद्र एवं राज्य सरकार की नीतियों की आलोचना की । कहा कि केंद्र के भाजपा सरकार की नीतियां गरीब एवं दलितों के हित में नहीं है। कहा यह सरकार कॉर्पोरेट घराने के इशारे पर चल रही है और पूंजीपतियों को और बढ़ावा देने का काम कर रही है। कहा कि केंद्र सरकार के गलत नीति के कारण आज देश में बेरोजगारी भ्रष्टाचार और अफसरशाही चरम पराकाष्ठा पर है।कहा कि कोरोना काल में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार संयुक्त रूप से सभी व्यक्ति को ₹10000 प्रोत्साहन भत्ता देने का गारंटी करें। इस दौरान कुल 9 सूत्री मांगों को लेकर शिष्ट मंडल द्वारा महामहिम राज्यपाल के नाम प्रखंड विकास पदाधिकारी को मांग पत्र सौंपा।

मौके पर शिष्ट मंडल के द्वारा विभिन्न मांगे---  जिनमें डीजल पेट्रोल के बेतहाशा मूल्यवृद्धि को वापस लो एवं महंगाई पर रोक लगाओ ।रेलवे कॉल ब्लॉक आदि निजीकरण करना बंद करो। केंद्र सरकार किसान विरोधी तीनों अध्यादेश को वापस लो। किसानों का सभी कर्ज माफ करो। 60 वर्ष के ऊपर सभी किसानों को ₹10000 महीना में किसान भत्ता दिया जाए ।कोरोना कॉल में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार संयुक्त रूप से सभी व्यक्ति को ₹10000 प्रोत्साहन भत्ता देने का गारंटी करें ।राज्य में मनरेगा कर्मियों का चल रहे हड़ताल पर सरकार हस्तक्षेप करें ।सहित विभिन्न बिंदुओं पर मांगमांग पत्र प्रखंड विकास पदाधिकारी को सौंपा गया। आज के इस धरना प्रदर्शन में जिला सचिव कन्हाईमाल पहाड़िया के अलावा प्रमुख जीयाराम हेंब्रम , परेश चंद्र मंडल, सुधामय मंडल ,हराधन मिर्धा ,अजीत माजी ,काली पद राय ,उज्जवल मंडल, मृत्युंजय तिवारी ,गुरु पद मिर्धा, सरत  डेकारों,विशेश्वर मुर्मू ,माधाय टूडू, बलराम राय सहित अन्य कॉमरेड मौजूद थे।

फोटो --- विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन करते सीपीआई के कार्यकर्ता एवं 

नाला ( जामताड़ा ) से मधुमिता कुमारी की रिपोर्ट।

No comments