थाना क्षेत्र मे मवेशी तस्कर सक्रिय पुलिस-प्रशासन है बेखबर दिन के उजाले मे भी हो रहा हैं मवेशीयों की तस्करी

 


मंडर :--झारखंड मे गौ तस्करी प्रतिवंघित होने के बावजूद साहिबगंज जिले के मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र में गौ तस्करी करने वाले तस्कर काफी सक्रिय है। रोजना गायों की तस्करी क्षेत्र के गौ तस्करों के द्वारा किया जा रहा है। रात तो रात दिन के उजाले में भी मिर्जाचौकी पुलिस प्रशासन के आंखों में धूल झोंक कर लगाकर झुंड के झुंड गायों को ले जाया जा रहा है।तस्कर इन गायों को बिहार के भागलपुर जिला अन्तर्गत इशीपुर बाराहाट थाना क्षेत्र के  प्यालापुर मंगलहाट पशु बाजार से खरीदारी कर बिहार के सीमा से झारखंड मे प्रवेश कराते हुये निकटव्रती गाँव दादर नामनगर किर्तनियाँ भगैया गोखला मिशन आदी क्षेत्र से होकर मंडरो पहाड़ के तलहटी होते हुये गाय का बड़ी खेप बंगाल के रास्ते बंगलादेश भेजा जा रहा है।इस कार्य मे बड़े पैमाने पर तथाकथित एक समुदाय के सक्रिय लोग तथा मवेशी दलाल सामिल है।इस कार्य मे दलाल द्वारा छोटे छोटे बच्चो को भी प्रलोभन देकर गौ तस्करी मे सामिल कर बच्चे के भविष्य से खिलवाड़ कर रहा है।इस कार्य मे संलिप्त छोटे बच्चे को मामुली मजदूरी दिया जाता है।इस तरीके का घृणित कार्य मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र मे हो रहा है किन्तु मिर्जाचौकी प्रशासन इन गौ तस्करो पर कार्रवाई करने के मामले मे सिफर साबित हो रहा है।दरसल गौ तस्करी को लेकर साहिबगंज जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में जैसे बरहेट, बरहरवा तालझारी आदी क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन के द्वारा कई बार कार्रवाई भी की गई फिरभी गौ तस्करो के तस्करी पर लगाम नही लग पाया। कारवाई करने के बाद पकड़े गए पशुओं की देख रेख खान पान रख रखाव प्रशासन के लिए चुनौती भी साबित होता है। ऐसे हालात में पुलिस प्रसासन अगर कार्रवाई करती भी है तो पुलिस प्रशासन के लिए जीतवाली कारवाई हार में तब्दील हो जाती है क्योंकि कुछ वर्ष पुर्व मे मिर्जाचौकी थाना पुलिस के द्वारा रात्री मे दर्जनों मवेशी को पकड़ा था  उसके रख रखाव के व्यव्स्था के अभाव के कारन विचार कर उन पशुओं को निकट के ही ग्रामीणों के हवाले कर दिया गया किन्तु कुछ ही दिन मे उन पशुओं को फिर से मवेशी तस्कर अपने गिरफ्त मे ले लिया व्यवस्था की कमी का फायदा गौ तस्कर बखुबी उठाकर घृणित कार्यों को अंजाम दे रहा है और मवेशियों को बंगाल के रास्ते बंगलादेश भेज रहा है।


No comments