एसडीओ ने नगर निगम को शिवनाथ राय पथ अंतर्गत ’’बंगाली धर्मशाला’के जांच के दिये आदेश

 

देवघर ब्यूरो रिपोर्ट- अनुमंडल पदाधिकारी-सह-अनुमंडल दण्डाधिकारी  विशाल सागर के द्वारा जानकारी दी गयी कि लोगों के द्वारा समर्पित जन आवेदन के माध्यम से शिवनाथ राय पथ पर अवस्थित जर्जर मकान को तोड़ने का अनुरोध किया गया था, जिसके आलोक में द्वितीय पक्ष के द्वारा अपने जमीन संबंधी कागजात, जमीन का विक्रय पत्र (सेल डीड) एवं 06.05.2013 से देवघर नगर निगम को भुगतान किये जाने वाले Holding Tax Receipt समर्पित किया गया है। उनके द्वारा बतलाया गया कि इसके पश्चात् द0प्र0सं0 की धारा-133 के तहत्ं अनुमंडल दण्डाधिकारी के न्यायालय   में दिनांक 30.07.2020 को आदेश पारित करते हुए जर्जर भवन को तोड़ने का आदेश दिया गया था। उनके द्वारा आगे जानकारी दी गयी कि इस पर नगर निगम, देवघर द्वारा सूचना दी गयी है कि शिवनाथ राय रोड देवघर अंतर्गत ’’बंगाली धर्मशाला’’ के नाम से चर्चित जमीन देवघर नगर निगम की सम्पत्ति है एवं स्थानीय भू-माफियाओं द्वारा फर्जी कागजात बनाकर हड़पने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में द्वितीय पक्ष द्वारा उक्त जमीन के कागजात एवं देवघर नगर निगम को भुगतान किये जाने वाले Holding Tax Receipt  तथा देवघर नगर निगम द्वारा  शिवनाथ राय पथ अंतर्गत ’’बंगाली धर्मशाला’’ नगर निगम की सम्पत्ति होने संबंधी विषय की गंभीरता को देखते हुए प्रशासक, देवघर निगम से कहा गया है कि वे अपने स्तर से इसकी विस्तृत जाँच कराते हुए जांच प्रतिवेदन से अनुमंडल पदाधिकारी को अवगत करायें, ताकि इस मामले पर अग्रेत्तर कार्रवाई की जा सके। इसके अलावे अनुमंडल पदाधिकारी ने उक्त मामलें को लेकर अवर निबंधक पदाधिकारी को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया है।


No comments