इलाज के लिए फेरी घाट शुरू करने की मांग लिखा मुख्यमंत्री व संसदीय कार्य मंत्री को पत्र


साहिबगंज:-कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के जिला अध्यक्ष मो राफाजुल अहमद ने  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन,संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम, उपायुक्त साहिबगंज को पत्र लिखकर कहा की राजमहल फेरी घाट से पशिचम बंगाल मालदा जाने के लिए लोगो के लिए आने जाने का साधन है।जहाँ कोविड़-19 के तहत राजमहल मानिकचक फेरी घाट से आम लोगो को आने जाने पर रोक लगा है।राजमहल क्षेत्र किसान मजदूर एवं गरीब एवं पिछड़ा क्षेत्र है लोग अपना बेहतरीन एवं उचित इलाज के लिए पश्चिम बंगाल मालदा जाते हैं क्योंकि लोग इलाज के लिए मालदा या भागलपुर जाते है लेकिन राजमहल लोगो के लिए भागलपुर जाना महंगा और दूरी अधिक लगती है इसलिए यहाँ के लोगो के लिए कम समय मे बेतहर इलाज के लिए मालदा ही जाते है।चुकी भागलपुर जाने में लोगो को अधिक दूरी का सामना करना पड़ता है इसलिए लोग मालदा बेहतर इलाज हेतु जाना पसंद करते हैं।राजमहल फेरी घाट से मालदा की दूरी कम है। अधिक से अधिक एक घंटा समय लगता है।वही राजमहल से फरक्का होते हुए मालदा की दूरी लगभग 80 किलोमीटर है और समय 4 घंटा लगता है।लोगो को इमरजेंसी इलाज के लिए काफी कठिनाइयों का सामना करना  पड़ता है।अल्पसंख्यक विभाग के साहिबगंज जिला अध्यक्ष मो राफजुल अहमद ने लिखे पत्र में कहा कि लोगों के परेशानियों को देखते हुए कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए राजमहल मानिकचक फेरी घाट शुरू करने की मांग की है

No comments