रक्षाबंधन पर राखियों की खरीददारी करने पहुंची बहने, राखी के साथ साथ मास्क ,सैनिटाइजर व ग्लब्स की भी हुई खरीददारी



रक्षाबन्धन आज, बहनो ने अपने भाइयो के लिए खरीदी स्वदेशी रेशम की डोर

इस वर्ष बहन अपने भाइयो को घर की बनी मिठाई खिलाकर करेगी मुँह मीठा

साहिबगंज : जिले सहित देश भर में आज धूमधाम से बहन भाई का त्योहार रक्षाबन्धन का पर्व मनाया जा रहा है। सावन का अंतिम दिन, अंतिम सोमवारी व सावन का पूर्णिमा को लेकर बहनो व भाइयो ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है। रक्षाबन्धन से पूर्व बहनों ने अपने भाई की कलाई के लिए स्वदेशी राखी खरीदी। वहीं कई बहने इस वर्ष अपने भाई की कलाई पर खुद से निर्मित राखी बांधेगी। रविवार को राखी लेने बाजारों में बहनों की भीड़ उमड़ी थी, वही राखी दुकान के अलावा मिठाई दुकानों में भी बहनो की भीड़ देखी गयी। वही कई बहने इस वर्ष अपने भाइयो को मुँह मीठा कराने के लिए घर में खुद से निर्मित मिठाई से मुँह मीठा कराएगी। कोरोना महामारी को लेकर इस वर्ष बहुत से भाई बहन घरो में ही रहकर राखी का त्योहार साथ साथ मनाएगे, वहीं कई बहने भाई जो अपने अपने बहन व भाई के पास जाकर राखी बांधती थे, भाई आकर बंधवाते थे, लॉक डाउन के कारण वो अब नही आएँगे जिससे उन बहन भाइयों को अकेले राखी का पर्व मनाना होगा। रक्षाबन्धन पर्व को लेकर बहनो को इस कोरोना काल में कही आने जाने कि कोई छूट नही दिया गया है। जिससे बहनों व भाइयो में नाराजगी है, वही कई बहने अपने भाइयो के लिए डाक के माध्यम से राखी भेज दी है।  इस वर्ष भाई अपनी बहन के लिए गिफ्ट के साथ साथ मास्क, सैनिटाइजर व हाथ का ग्लब्स भी खरीदते दिखे, प्रदीप, गोलू, कैलास यादव, मुन्ना सहित अन्य भाइयों ने बताया कि बहन हमारे लिए बहुत जरूरी है, बहन इस कोरोना काल में सुरक्षित रहे उसके लिए इस वर्ष गिफ्ट के अलावा मास्क, सैनिटाइजर, ग्लब्स और भी सुरक्षा के जो उपकरण है वो भी देंगे। वही बहन भी अपने भाइयो के लिए राखी के साथ साथ मास्क खरीदती दिखी, कल्याणी कुमारी, दीपशिखा कुमारी, पल्लवी प्रिया, श्रेया मुरारका, मधु कुमारी सहित अन्य बहनों ने कहा कि कोरोना संक्रमण से भाइयो की रक्षा के लिए इस वर्ष राखी के साथ साथ मास्क व ग्लब्स व सैनिटाइजरकी भी खरीददारी की गई है। भाई को पहले मास्क पहनाउंगी, फिर हाथो को सेनेटाइज करवाउंगी फिर राखी जिससे मेरा भाई सुरक्षित रहे।


No comments