राजमहल में आतिशबाजी को लेकर दो समुदाय के बीच कहासुनी, पुलिस ने कराया मामले को शांत



आतिशबाजी करने को लेकर दो समुदाय के बीच कहासुनी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले को कराया  शांत

 राजमहल:- राजमहल थाना क्षेत्र के लालमाटी गांव में अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन करने की खुशी को लेकर बुधवार कि रात लगभग सात बजे पटाखा फोड़ने को लेकर दो समुदाय के लोगों में शुरू हुए विवाद ने काफी गंभीर रूप ले लिया, जिसके स्थिति पर काबू पाने के लिए कई थानों की पुलिस व राजमहल एसडीपीओ को आना पडा। फिलहाल स्थिति सामान्य है एहतियात के तौर पर मोहल्ले में पुलिस तैनात की गई है। घटना के दूसरे दिन गुरुवार को पूरे इलाके में त्वरित कार्रवाई के लिए तालझारी थाना, राजमहल थाना व एसडीपीओ अरविंद कुमार सिंह के नेतृत्व में शांति वयवस्था कायम करने के लिए फ्लैग मार्च भी कियागया। मिली जानकारी के अनुसार अयोध्या में वर्षों बाद राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन किया गया। जिसको लेकर पुरे विश्व में खुशियां मनाई जा रही है इसी क्रम में राजमहल थाना क्षेत्र के लालमाटी गांव में भी लोग दीपक व पटाखा जला रहे थे। इसी दौरान दुसरे समुदाय के लोगों ने पटाखा फोडने को मना किया जिसके बाद दोनों के बीच कहा सुनी हुई और उतने में कोई बच्चों को अपशब्द कहने लगा। उसके साथ का एक और युवक उसको ऐसा करने से मना करते हुए खींच कर अपने साथ ले जाने लगा। इसी बात पर उनके बीच विवाद हुआ और फिर दोनों समुदाय को दर्जनों लोग आमने सामने आ गए। जिसके बाद किसी ग्रामीण द्वारा  जिले के एसपी एवं राजमहल एसडीपीओ को घटना की सुचना दी गई, जिसके बाद  एसडीपीओ ने  तुरंत राजमहल थाना व तालझारी थाना को सुचना दिया। सुचना मिलते ही सबसे पहले तालझारी थाना प्रभारी बिर बादल व राजमहल एसडीपीओ अरविंद कुमार सिंह घटना स्थल पर पहुंच कर मोर्चा को सभालते हुए दोनों समुदाय के लोगों को शांत करवाया और घर भेजा। जिसके बाद राजमहल थाना प्रभारी चिरंजीत प्रसाद, तीनपहाड थाना पुलिस व राधानगर थाने की पुलिस पहुंची जिसके बाद लालमाटी गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। और लोगों से अपील की गई कि लोग शांति वयवस्था बनाए रखे।  वहीं एसडीपीओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया की पटाखा फोडऩे को लेकर विवाद हुआ था। मौके पर पहुंच कर दोनों समुदाय के लोगों को शांति बनाने का अपील भी किया गया। जिसमें दोनों समुदाय के लोगों ने बात मान लिया और शांति वयवस्था कायम किया। फिलहाल अभी क्षेत्र में शांति वयवस्था कायम है। साथ ही उन्होंने बताया की शुक्रवार को दोनों समुदाय के गणमान्य लोगों के साथ एक शांति समिति की बैठक रखी गई है, ताकि दुबारा इस क्षेत्र में इस तरह की घटना न घटे। उन्होंने लोगों से अपील किया की लोग अफवाह में न पडे। अफवाह फैलाने वाले पर पुलिस का कडी नजर बनाए रखी है l

No comments